Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Monday / October 25.
Homeन्यूजMette Frederiksen Visit India: पीएम मोदी से मुलाकात के बाद मेटे ने कहा- भारत एक करीबी पार्टनर

Mette Frederiksen Visit India: पीएम मोदी से मुलाकात के बाद मेटे ने कहा- भारत एक करीबी पार्टनर

Mette Frederiksen Visit India
Share Now

Mette Frederiksen Visit India : डेनमार्क की प्रधानमंत्री मेटे फ्रेडरिक्सन भारत के दौरे पर हैं. आज यानी शनिवार को वो तीन दिन के दौरे पर भारत पहुंची हैं. इन तीन दिनों के दौरे पर प्रधानंत्री मेटे के कई कार्यक्रम फिक्स हैं. डेनमार्क की प्रधानमंत्री मेटे फ्रेडरिक्सन का स्वागत खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  ने हैदराबाद हाउस में किया. सबसे पहले डेनमार्क की प्रधानमंत्री मेटे ने राजघाट पर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की. इसके बाद डेनमार्क की प्रधानमंत्री मेटे का राष्ट्रपति भवन में  जोरदार स्वागत किया गया.

इसके साथ ही भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने भी मेटे से मुलाकात की. आपको बताते चलें कि भारत अपने रिश्तों को मजबूती देने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है. इस मौके पर डेनमार्क की प्रधानमंत्री मेटे (Mette Frederiksen Visit India) ने भी भारत की प्रशंसा करते हुए कई बातों का जिक्र किया है. मेटे ने इस मुलाकात के बाद कहा कि हम भारत को अपना बहुत करीबी पार्टनर मानते हैं. उन्होंने दोनों देशों की मुलाकात के बारे में कहा कि ”मैं भारत और डेनमार्क की इस मुलाकात को एक मील के पत्थर की तरह देखती हूं. जो आने वाले समय में काफी कारगार साबित होगा”.

साथ ही डेनमार्क की प्रधानमंत्री फ्रेडरिक्सन भारत के छात्रों और नागरिकों से भी संवाद करेंगी. आपको बता दें कि 28 सितंबर 2020 को डिजिटल माध्यम से हुए शिखर बैठक में भारत और डेनमार्क ने ‘हरित सामरिक गठजोड़’ स्थापित किया था। 

साथ ही दोनों देशों के बीच के रिश्तों की बात करें तो लंबे समय इस बात पर जोर दिया जा रहा है कि भारत अंतराष्ट्रीय स्तर पर अपनी छवि को मजबूत बनाएं. इसी के मद्देनजर हाल ही में भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने पूरे 20 साल में पहली बार डेनमार्क का दौरा किया था. इसके बाद अब डेनमार्क की प्रधानमंत्री मेटे फ्रेडरिक्सव का यह दौरा कई मायनों में खास माना जा रहा है.

इसे भी पढ़े:  श्रीलंका में ‘मित्र शक्ति अभ्यास’ के 8वें संस्करण की शुरुआत, 15 अक्टूबर तक चलेगा अभ्यास

बात करें, रोजगार की तो भारत और डेनमार्क के मजबूत कारोबारी और निवेश से जुड़े काफी अच्छे रिश्ते हैं. सिर्फ भारत में ही डेनमार्क की करीब 200 से ज्यादा कंपनियां  मौजूद हैं. वहीं बात अगर डेनमार्क की करें तो यहां 60 से अधिक भारतीय कंपनियां काम कर रही हैं. इन दोनों ही देशों के बीच कई चीजों को लेकर बिजनेस चल रहा है।

No comments

leave a comment