Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Wednesday / October 27.
Homeबॉलीवुड एंड म्यूजिकबीमारी को अपनी ताकत बनाकर मॉडल ने बनाया ‘गिनीज वर्ल्ड बुक रिकॉर्ड’

बीमारी को अपनी ताकत बनाकर मॉडल ने बनाया ‘गिनीज वर्ल्ड बुक रिकॉर्ड’

Share Now

हम किसी पार्टी या किसी कार्यक्रम में जाने के लिए खुद को सुंदर कपड़े और श्रृंगार के साथ तैयार करते हैं, हम जीवन में खुद को अपनाना बंद नहीं करते हैं, खासकर जब हम लोगों को प्रभावित करने के लिए अपने चेहरे के साथ प्रयोग कर रहे हैं. खासतौर पर फिल्में देखने के बाद युवक अपनी दाढ़ी अलग-अलग शेप में बढ़ाते हैं, लेकिन क्या आपने कभी दाढ़ी रखने वाली लड़की देखी है?

लेकिन आज एक ऐसी युवती की कहानी है जिसने खुद को वैसे ही गोद लिया है जैसे वैज्ञानिकों के अनुसार, दुनिया में 14 में से 1 महिला का शरीर एक पुरुष के समान होता है.  OTT इंडिया पर आज हम एक ऐसे शख्स के बारे में बात करेंगे जो एक जवान औरत है लेकिन वह भी एक जवान आदमी की तरह दिखता है

एक जवान औरत जो एक जवान आदमी लगती है 
युवा महिला हरनाम कौर (Harnaam Kaur) है, जो वर्तमान में यूके में रह रही है और उसकी दाढ़ी के लिए गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड है. सोशल मीडिया पर उनके पोस्ट हमेशा वायरल होते रहते हैं, हरनाम कौर एक सफल सोशल मीडिया स्टार होने के साथ-साथ एक मॉडल भी है. 

ये भी पढ़ें: अनुपम खेर को अमेरिका में हिंदू स्टडीज में डॉक्टरेट की डिग्री से किया गया सम्मानित

बीमारी को बानया ताकत 
मॉडल के तौर पर काम करने वाली हरनाम कौर का पोस्ट वायरल हो रहा है, उन्हें बेहद साहसी और बहादुर युवती कहा जा सकता है. वह एक मोटिवेशनल स्पीकर भी हैं. उन्होंने अपनी कमजोरी को अपनी ताकत बनाया और खुद को दुनिया के सामने पेश किया. 

Image Courtesy: Harnaam Kaur Instagram

12 साल की उम्र में ही हरनाम कौर को पता चला कि उसे लिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम नाम की बीमारी है, जिसके कारण उसके चेहरे पर अन्य युवतियों की तुलना में बाल तेजी से बढ़ते हैं.  स्कूल से आना-जाना उसके लिए एक समस्या बनी रही, स्कूल-कॉलेज और आस-पड़ोस के लोग उनका मज़ाक उड़ाते थे, जिससे उनके बाहर जाने की संभावना कम हो जाती थी. 

हरनाम कौर ने दाढ़ी को रोकने के लिए कई उपाय, दवाई और क्रीम का सहारा लिया, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ. अंत में हरनाम कौर ने अपनी दाढ़ी काटना बंद कर दिया. उन्होंने खुद को साहस दिया और खुद को दुनिया के सामने पेश किया.  यह कहानी हमें अपने आप को वैसे ही गले लगाने के लिए प्रेरित करती है जैसे हम हैं. भगवान व्यर्थ में कुछ भी नहीं बनाते हैं. 

ये वीडियो भी देखें: 

No comments

leave a comment