Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Thursday / December 2.
Homeन्यूजमोदी सरकार का बड़ा फैसला, 17 नवंबर से फिर खुलेगा करतारपुर कॉरिडोर

मोदी सरकार का बड़ा फैसला, 17 नवंबर से फिर खुलेगा करतारपुर कॉरिडोर

Kartarpur Sahib Corridor
Share Now

मोदी सरकार ने करतारपुर कॉरिडोर ( Kartarpur Sahib Corridor) खोले जाने को लेकर बड़ा फैसला लिया है. केन्द्र सरकार ने कल यानि 17 नवंबर से इसे दोबारा खोलने का फैसला लिया है. बता दें कि लंबे समय से इसे खोले जाने की मांग उठ रही थी, जिसके बाद अब इसे दोबारा खोले जाने की जानकारी सामने आई है.

कोविड 19 की वजह से किया गया था बंद 

गौरतलब है कि कोविड19 महामारी के मद्देनजर मार्च 2020 में इस कॉरिडोर को बंद कर दिया गया था. करोड़ों देशवासियों की असीम आस्था के केन्द्र करतारपुर साहिब को दोबारा खोले जाने के फैसले से बड़ी संख्या में तीर्थयात्रियों को फायदा होगा.

केन्द्रीय गृहमंत्री ने ट्वीट कर दी जानकारी

केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने ट्वीट कर जानकारी दी कि सरकार ने करतारपुर साहिब कॉरिडोर को दोबारा खोलने का फैसला लिया है. यह फैसला गुरु नानक देव जी और सिख समुदाय के प्रति मोदी सरकार की अपार श्रद्धा को दिखाता है. इसके अलावा गृहमंत्री ने इसे लेकर समीक्षा बैठक भी की. फिलहाल कोविड प्रोटोकॉल के मुताबिक तीर्थयात्रा की सुविधा मिलेगी.

Kartarpur Sahib Corridor

Image Courtesy: Google.com

बीजेपी प्रतिनिधिमंडल ने की थी पीएम मोदी से मुलाकात

हाल ही में पंजाब बीजेपी नेताओं के प्रतिनिधिमंडल ने पीएम मोदी से मुलाकात कर करतारपुर कॉरिडोर ( Kartarpur Sahib Corridor) को खोलने की मांग की थी. प्रतिनिधिमंडल ने 19 नवंबर को गुरु पर्व से पहले इसे खोलने की मांग की थी, अब मोदी सरकार ने मांगों को मानते हुए सिख समुदाय को गुरु पर्व का तोहफा दिया है. अब श्रद्धालु पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारे में जाकर मत्था टेक सकेंगे.

ये भी पढ़ें: पंजाब के CM चरणजीत सिंह चन्नी ने पीएम मोदी से की मुलाकात, इन तीन मुद्दों पर हुई बात

24 अक्टूबर 2019 को हुआ था समझौता

पीआईबी की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक जीरो प्वाइंट, इंटरनेशन बाउंड्री पर डेरा बाबा नानक में भारत ने पाकिस्तान के साथ 24 अक्टूबर 2019 को हस्ताक्षर किए थे, जिसमें करतारपुर साहिब कॉरिडोर ( Kartarpur Sahib Corridor) के संचालन के तौर-तरीकों का उल्लेख है. साथ ही साल 2018 में श्रीगुरु नानक देवजी की 550वीं जयंती के ऐतिहासिक अवसर को भव्य तरीके से मनाने का प्रस्ताव पारित किया गया था.

No comments

leave a comment