Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / October 4.
Homeहेल्थजानिये क्या है, ‘Monkey B Virus’ इसके प्राथमिक लक्षणों से रहें सतर्क!

जानिये क्या है, ‘Monkey B Virus’ इसके प्राथमिक लक्षणों से रहें सतर्क!

Monkey B Virus
Share Now

कोरोना महामारी ने जैसे की पुरानी सभी बीमारियों को भुला ही दिया हो, यह संक्रमण ऐसे फैला की पूरे विश्व में इसने अपना कहर बनाकर रखा है। लेकिन कोरोना के अलावा भी ऐसी कई संक्रमित बीमारियाँ हैं, जो कि कोरोना की तरह जान लेवा हैं। सालों पहले ऐसे ही एक वायरस की पुष्टि की गई थी। वर्ष 1932 में Monkey B Virus मकाक (macaque) नामक बंदरों की प्रजाति में पहली बार देखा गया था। यह वायरस एक प्रकार का अल्फाहर्पीसवायरस एनज़ूटिक (Alphaherpesvirus enzootic) है। 

ये हैं  ‘Monkey B Virus’ के प्राथमिक लक्षण:-  

CDC (Centers for Disease and Prevention) की रिपोर्ट के मुताबिक, यह वायरस आमतौर पर शारीरिक द्रव स्राव से सीधे संपर्क में आने से और विनिमय के माध्यम से तेजी से फैलता है। Monkey B Virus के लक्षण नॉर्मल फ्लू की तरह ही होते हैं। लेकिन तीन से सात दिनों के अंदर वायरस के कई लक्षण दिखाई देने लग जाते हैं। एक महीने के अंतराल में वायरस धीरे धीरे मस्तिष्क तक बढ़ने लगता है। 

यहाँ पढ़ें: जानिये, इस आसन के प्रयास से कैसे बढ़ेगी हमारे शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा!

B Virus

B Virus Image Credit: Google Image

Monkey B Virus के प्राथमिक लक्षण कुछ इस प्रकार हैं:-

  • नॉर्मल फीवर की तरह ही वायरस के शुरुआती लक्षणों की शुरुआत होने लगती है।
  • शरीर के मांसपेशियों में दर्द उत्पन्न होने लगता है।
  • अचानक से सिर में दर्द
  • शरीर में अत्यधिक थकान लगना,
  • इसके अलावा शरीर में ऐसे किसी जगह पर घाव में फफूंद होने लगाना जो कि बंदर के संपर्क में आया हो।
  • और भी ऐसे लक्षण हैं, जैसे कि सांस लेने में तकलीफ होना (Shortness of breath)
  • Nausea और Vomiting होना।
  • पेट में अत्यधिक दर्द होना। (Abdominal pain)
  • अचानक से हिचकी आने लगना। (Hiccups)
Mokey B Virus

Mokey B Virus Image Credit: Gistsbage

यह वायरस Brain और Spinal Cord को अपना टारगेट बनाता है:- 

  • ऐसे लक्षणों से शरीर अंदर से कमजोर होने लगता है। धीरे धीरे वायरस का असर मस्तिष्क तक पहुँचने लगता है। 
  • जैसे जैसे बीमारी बढ़ती जाती है, यह वायरस शरीर के मुख्य भागों- जैसे कि, मस्तिष्क (Brain) और रीढ़ की हड्डी (Spinal Cord) में सूझन पैदा करने लगता है।
  • जिस वजह से घाव के आसपास itching, सुन्न होना (numbness) और अत्यधिक दर्द होने लगता है।
  • मांसपेशियाँ अपना काम सही तरह से करना बंद कर देती हैं।
  • Nervous System खराब होने लगता है और मस्तिष्क द्वारा की जाने वाली प्रतिक्रियाएं धीमी होने लगती हैं।

यहाँ पढ़ें: इन वजहों से हमारे शरीर में विटामिन का है अत्यधिक महत्व!

इस वायरस के संक्रमण से मृत्यु दर 70 से 80 प्रतिशत जितना हो सकता है। अर्थात यदि 100 लोग Monkey B Virus से संक्रमित हैं तो लगभग 70-80 लोगों की मृत्यु निश्चित होती है। चीन में इस वायरस का पहला केस सामने आया है। जिसके संक्रमण में आने से 52 वर्षीय पशु-चिकित्सक की मृत्यु हो गई है। वैज्ञानिकों द्वारा इस वायरस के निदान और दवाओं पर रिसर्च किया जा रहा है।  

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें.. और OTT INDIA App डाउनलोड अवश्य करें.. स्वस्थ रहें.. 

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment