Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / November 30.
HomeBusinessनेशनल इंटरनेट एक्सचेंज ऑफ इंडिया हुआ डिजिटल, ग्राहकों और साझेदारों को होगी आसानी

नेशनल इंटरनेट एक्सचेंज ऑफ इंडिया हुआ डिजिटल, ग्राहकों और साझेदारों को होगी आसानी

National Internet Exchange Of India
Share Now

PIB: देश के सभी लोगों तक इंटरनेट की पहुंच को सुलभ बनाने के उद्देश्य से काम करने वाले नेशनल इंटरनेट एक्सचेंज ऑफ इंडिया (National Internet Exchange Of India) भी अब पेमेंट के मामले में डिजिटल हो गया है. बता दें कि NIXI इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के तहत काम करने वाली एक गैर लाभकारी कंपनी है.

डिजिटिल पेमेंट गेटवे शुरू

अब कंपनी की ओर से डिजिटिल पेमेंट गेटवे (Digital Payment Gateway) शुरू किए जाने से एनआईएक्सआई के ग्राहकों को रीयल-टाइम पेमेंट और बिना किसी परेशाना की सेवाएं मिलने में आसानी होगी. कंपनी के सीईओ अनिल कुमार जैन ने कहा कि एनआईएक्सआई इंटरनेट की पहुंच को मजबूत और सुरक्षित बनाने के साथ-साथ इंटरनेट अवसरंचना को आत्मनिर्भर बनाने के डिजिटल इंडिया मिशन में अपना योगदान देता रहा है. यह पहल अधिक डिजिटल आजादी और पारदर्शिता सुनिश्चित करेगी.

ग्राहकों और विक्रेताओं को होगी आसानी

वहीं पेयू इंडिया के सीईओ अनिर्बान मुखर्जी ने कहा कि एनआईएक्सआई के तीन प्रमुख डोमेन में भुगतान डिजिटलीकरण को सक्षम कर रहा है. जिससे ग्राहकों और विक्रेताओं दोनों को आसानी होगी. पेयू की तकनीकी विशेषज्ञता और डिजिटल इंडिया पहल के लिए पसंदीदा भागीदार बनने के लिए तैयार होने का ये सबूत है. बता दें कि पेमेंट गेटवे सेवाओं को शुरू करने के लिए एनआईएक्सआई ने पेयू और एनएसडीएल के साथ साझेदारी की है.

इनके साथ की साझेदारी

बता दें कि पेयू भारत की एक अग्रणी पेमेंट गेटवे कंपनी है. यह ऑनलाइन व्यवसायों को पेमेंट गेटवे की सुविधा प्रदान करती है. यह 100 से अधिक भुगतान की विधियों के साथ 4.5 लाख से अधिक व्यापारियों को अपनी सेवाएं प्रदान कर रही है. जबकि एनएसडीएल विश्व की सबसे बड़ी डिपॉजिटरी में से एक है. इसने एक अत्याधुनिक बुनियादी ढांचा स्थापित किया है, जो भारतीय पूंजी बाजार में डीमैटरियलाइज्ड (अभौतिक) रूप में रखी और तय की गई अधिकांश प्रतिभूतियों को संभालती है. इसके अलावा यह व्यवसायों को सुरक्षित और निर्बाध पेमेंट गेटवे की सेवाएं भी प्रदान करती है.

ये भी पढ़ें: अब देश की सड़कों पर दिखेगी BH सीरीज की नंबर प्लेट, जानिए कैसे होगा ये रजिस्ट्रेशन

साल 2003 से काम कर रही NIXI

जहां तक एनआईएक्सआई की बात है तो यह साल 2003 से इंटरनेट प्रौद्योगिकी के विस्तार को लेकर काम कर रहा है. वह इंटरनेट एक्सचेंज (आईएसपी-सीडीएन के बीच इंटरनेट डाटा का आदान-प्रदान), डॉट आईएन कंट्री कोड डोमेन और भारत डोमेन की बिक्री, प्रबंधन और संचालन के साथ-साथ आईपीवी4 और आईपीवी 6 की बिक्री, प्रबंधन और संचालन करती है.

No comments

leave a comment