Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / October 4.
HomeUnknown फैक्ट्सयह है, एशिया का सबसे लंबा और विश्व में पंचवां हाई स्पीड ट्रैक!

यह है, एशिया का सबसे लंबा और विश्व में पंचवां हाई स्पीड ट्रैक!

Asia’s largest track
Share Now

 PIB Delhi: भारत में ऑटोमोबाइल के लिए एशिया के सबसे लंबे और दुनिया के पांचवां सबसे लंबे हाई स्पीड ट्रैक का उद्घाटन किया गया। Union Minister of Heavy Industries and Public Enterprises Prakash Javadekar (भारी उद्योग एवं लोक उद्यम मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर) ने इंदौर में एनएटीआरएएक्स- हाई स्पीड ट्रैक (NATRAX- the High-Speed Track-HST) का उद्घाटन किया। यह ट्रैक एशिया का सबसे लंबा हाई स्पीड ट्रैक (Asia’s largest 11.3 km High-Speed Track) है। 

विश्व स्तरीय 11.3 किमी लंबे हाई स्पीड ट्रैक के ई-उद्घाटन पर बोलते हुए, श्री जावड़ेकर ने बताया कि, भारत का ऑटोमोबाइल और स्पेयर पार्ट्स का मैन्युफैक्चरिंग केंद्र बनना तय है। हम तेजी से ‘आत्मनिर्भर भारत’ की ओर बढ़ रहे हैं और इस दिशा में चौतरफा प्रयास किए जा रहे हैं। मंत्रालय प्रधानमंत्री के सपने को पूरा करने के लिए के लिए प्रतिबद्ध है जिसके तहत भारत ऑटो मैन्युफैक्चरिंग का केंद्र बनेगा। ऑटोमोबाइल और मैन्युफैक्चरिंग उद्योगों के विस्तार से नए रोजगार पैदा करने में भी सहयोग मिलेगा।

NATRAX हाई स्पीड ट्रैक की परीक्षण क्षमताएं और विशेषताएं:- 

NATRAX

NATRAX

  • एनएटीआरएएक्स  (NATRAX- the High-Speed Track-HST) को1000 एकड़ भूमि के क्षेत्र में विकसित किया गया है।
  • Asia’s largest 11.3 km High-Speed Track-NATRAX
  • इस ट्रैक पर 2 wheelers से लेकर heavy tractor-trailers (भारी ट्रैक्टर ट्रेलरों) तक के सभी प्रमुख श्रेणी वाले वाहनों का हाई स्पीड परीक्षण किया जाएगा।
  • NATRAX वाहनों के लिए सभी प्रकार के हाई स्पीड परीक्षण का एक प्रमुख केंद्र होगा।
  • एनएटीआरएएक्स केंद्र में कई परीक्षण क्षमताएं हैं जैसे कि, अधिकतम गति का आंकलन करना।
  • एक्सीलरेशन, तय गति परईंधन की खपत क्षमता, रियलरोड ड्राइविंग सिमुलेशन के माध्यम से उत्सर्जन परीक्षण करना।
  • लेन बदलने के दौरान के दौरान वाहन की स्थिरता (lane change) का परीक्षण करने की क्षमता है। 
  • इसके अलावा (High-speed durability testing) उच्च गति की निरंतरता परखने की सुविधा है।
  • 375 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम गति के साथ वाहनों की स्टेयरिंग का नियंत्रण करने का परीक्षण संभव है। 
  • यह सभी प्रकार के हाई स्पीड परीक्षणों के लिए एक प्रमुख स्थान है, जो दुनिया में सबसे बड़े ट्रैकों में से एक है।
  • NATRAX Track वाहनों के डायनेमिक्स का एक उत्कृष्टता केंद्र है।

यहाँ पढ़ें: पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों से मिलेगा छुटकारा! जानिए क्या है नए ऐलान!

भारत का आने वाले समय में ऑटो मैन्युफैक्चरिंग हब बनना तय- श्री प्रकाश जावड़ेकर

prakash-jawdekar

Shri Prakash Javadekar- Image Source: File Photo

भारी उद्योग एवं लोक उद्यम मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि, रेलवे, राजमार्ग और जलमार्ग क्षेत्र की कई परियोजनाएं वर्षों से लटकी हुई थीं जो आज मजबूत राजनीतिक इच्छाशक्ति के कारण पूरी हो रही हैं। इस अवसर पर भारी उद्योग एवंलोक उद्यम राज्य मंत्री श्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि सरकार मैन्युफैक्चरिंग और ऑटोमोबाइल उद्योग को बढ़ावा दे रही है क्योंकि इससे देश को बड़े पैमाने पर सशक्त बनाने में मदद मिलेगी। 

एचएसटी का इस्तेमाल बीएमडब्ल्यू, मर्सिडीज, ऑडी, फेरारी, लेम्बोर्गिनी, टेस्ला आदि जैसी हाई-एंड कारों की अधिकतम हाई स्पीड क्षमता को मापने के लिए किया जाता है। जिसे किसी अन्य भारतीय परीक्षण ट्रैक पर नहीं मापा जा सकता है। मध्य प्रदेश में स्थित होने के कारण, यह अधिकांश ओईएम के लिए सुलभ है। विदेशी ओईएम भी भारतीय परिस्थितियों के लिए प्रोटोटाइप कारों के विकास के लिए एनएटीआरएएक्स एचएसटी के इस्तेमाल पर विचार करेंगे।

यहाँ पढ़ें: दिल्ली के नए पुलिस कमिश्नर होंगे IPS बालाजी श्रीवास्तव, एसएन श्रीवास्तव की लेंगे जगह

वर्तमान में, विदेशी ओईएम हाई स्पीड परीक्षण जरूरतों के लिए विदेश में उच्च गति वाले ट्रैक पर परीक्षण करते हैं। 

यह सभी तरह की श्रेणी वाले वाहनों की जरूरत को पूरा कर सकता है। दो पहिया वाहनों से लेकर सबसे भारी ट्रैक्टर ट्रेलरों तक के वाहनों का इस ट्रैक पर परीक्षण किया जा सकता है। ट्रैक के घुमावों पर वाहनों की स्टेयरिंग का नियंत्रण 375 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम गति पर भी किया जा सकता है। 

NATRAX ट्रैक को कम अंडाकार बनाया गया है। जो इसे से वैश्विक स्तर पर सबसे सुरक्षित परीक्षण ट्रैक में से एक बनाता है।

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें OTT INDI App पर…. 

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment