Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Monday / October 25.
Homeभक्तिNavratri 2021: मां दुर्गा का डोली में आगमन और हाथी पर प्रस्थान, जानिए क्या होगा असर

Navratri 2021: मां दुर्गा का डोली में आगमन और हाथी पर प्रस्थान, जानिए क्या होगा असर

Navratri 2021
Share Now

शशि सूर्ये गजारूढ़ा, शनिभौमे तुरंगमे

गुरौ शुक्रे च दोलायां, बुधे नौका प्रकीर्तिता

अर्थात- नवरात्रि (Navratri 2021) की शुरुआत अगर रविवार या सोमवार को हो तो मां दुर्गा हाथी पर सवार होकर आती हैं, वहीं शनिवार या मंगलवार को नवरात्रि की शुरुआत हो तो मां दुर्गा घोड़े पर सवार होकर आती हैं, जबकि गुरुवार या शुक्रवार से नवरात्रि (Navratri 2021) की शुरुआत होने पर डोली पर और बुधवार को कलश स्थापना होने पर नाव पर सवार होकर आती हैं.

डोली में आगमन और हाथी पर प्रस्थान 

इस बार नवरात्रि की शुरुआत (Navratri 2021) गुरुवार से हो रही है, इसलिए शास्त्रों के मुताबिक मां दुर्गा इस बार डोली पर सवार होकर आ रही हैं. जबकि उनका प्रस्थान हाथी पर होगा. देवी भागवत पुराण में इस बात का उल्लेख विस्तार से किया गया है कि माता की कौन सी सवारी देश और दुनिया पर क्या असर डालती है.

गजे च जलदा, देवी क्षत्र भंग स्तुरंगमे

नौकायां सर्वसिद्धि, स्या ढोलायां मरणंधुवम

अर्थात- मां दुर्गा जब हाथी पर सवार होकर आती हैं तो ज्यादा बारिश की संभावना होती है. वहीं माता की सवारी अगर घोड़ा हो तो पड़ोसी देशों से युद्ध की आशंका होती है. साथ ही मां दुर्गा की सवारी अगर नौका हो तो सभी की मनोकामनाएं पूरी होती है जबकि डोली की सवारी होने से महामारी का भय होता है.जिस तरह मां दुर्गा के आगमन का वाहन दिन के अनुसार तय होता है, ठीक उसी तरह मां दुर्गा के प्रस्थान का वाहन भी ऐसे ही निर्धारित है.

शशि सूर्ये दिन यदि सा विजया महिषागमने रुज शोककरा

शनि भौमदिने यदि सा विजया चरणायुध यानि करी विकला

बुधशुक्र दिने यदि सा विजया गजवाहन गा शुभ वृष्टिकरा

सुरराजगुरौ यदि सा विजया नरवाहन गा शुभ सौख्य करा

 

अर्थात- अगर विजयादशमी रविवार या सोमवार को हो तो मां दुर्गा के प्रस्थान का वाहन भैंसा होता है, जिससे देश में रोग और शोक बढ़ता है. जबकि अगर विजयादशमी शनिवार या मंगलवार को हो मां दुर्गा की सवारी मुर्गा होता है, जिससे दुख बढ़ता है. वहीं बुधवार या शुक्रवार के दिन मां का प्रस्थान वाहन हाथी होता है, जिससे ज्यादा बारिश होती है. वहीं गुरुवार को मनुष्य होता है, जो काफी शुभ माना जाता है.

ये भी पढ़ें: 51 शक्तिपीठों में से एक है गुजरात स्थित मां अम्बा का ये सुप्रसिद्ध मंदिर!

इस तरह इस बार मां दुर्गा का आगमन डोली में और प्रस्थान हाथी पर होगा. डोली में आगमन से महामारी और हाथी पर प्रस्थान से ज्यादा बारिश की आशंका है. सच्चे मन से आराधना करने पर मां भक्तों के सभी कष्ट हर लेती हैं.

No comments

leave a comment