Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / August 9.
Homeन्यूजNeet-PG Counselling चार सप्ताह के लिए स्थगित, देशभर में रेजिडेंट डॉक्टर्स ने किया प्रोटेस्ट

Neet-PG Counselling चार सप्ताह के लिए स्थगित, देशभर में रेजिडेंट डॉक्टर्स ने किया प्रोटेस्ट

Neet-PG Counselling delay
Share Now

फेडरेशन ऑफ रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन (FORDA), NEET-PG काउंसलीग को स्थगित करने के विरोध में देश में प्रोटेस्ट कर रहे हैं जिसमें OPD सेवा बंद रखने का निर्णय लिया है। यह प्रोटेस्ट पूरे देश में राजधानी दिल्ली, असम, गुजरात (अहमदाबाद), राजस्थान समेत राज्यों और शहरों में जारी है। इस प्रोटेस्ट में देशभर से 10 हजार से ज्यादा रेजिडेंट डॉक्टर्स शामिल हैं।

National Eligibility cum Entrance Test (NEET-PG) 

Federation of Resident Doctors’ Association (FORDA)

 नीट पीजी काउंसलिंग 2021 को चार सप्ताह के लिए स्थगित किया गया है। Neet-PG Counselling के स्थगित करने पर (FRODA) ने हड़ताल की जानकारी गुरुवार यानी 25 नवबमर को दी थी। जिसमें फोर्डा ने देश भर के सभी रेजिडेंट डॉक्टरों से 27 नवंबर को OPD सेवाओं को रोकने का आग्रह किया था। 

FRODA ने हड़ताल की जानकारी गुरुवार को दी: 

फोर्डा ने अपने पत्र में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को बताया, “अगर कोई सकारात्मक प्रतिक्रिया नहीं मिलती है, तो हमें अपना विरोध प्रदर्शन तेज करने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।” 

यहां पढ़ें: कोरोना के नए वेरिएंट को लेकर पीएम मोदी की खास बैठक, इन अहम विषयों पर हुई चर्चा

OPD भी बंद रहेगी, सिर्फ़ आपातकालीन सेवाएं देंगें: रेजिडेंट डॉक्टर्स  

अहमदाबाद के एक अस्पताल में रेजिडेंट डॉक्टरों ने NEET-PG  काउंसलीग के लगातार आगे बढ़ाने के कारण प्रदर्शन जारी किया है। जिसमें एक रेजिडेंट डॉक्टर ने बताया, “अगर हमारी मांगे पूरी नहीं होती हम 29 नवंबर को अपना काम छोड़कर सिर्फ़ आपातकालीन सेवाएं देंगें। हम OPD भी बंद करेंगे।”

फोर्डा ने एक बयान में कहा, “देश के पहले से ही बोझ से दबे और थके हुए रेजिडेंट डॉक्टर, जो कोविड-19 महामारी की शुरुआत के बाद से फ्रंटलाइन वर्कर की तरह काम कर रहे हैं। अब पहले से ही विलंबित नीट-पीजी के मामले में सुप्रीम कोर्ट की कार्यवाही के कुछ सकारात्मक परिणाम के लिए आज तक धैर्यपूर्वक प्रतीक्षा कर रहे थे। लेकिन अब नहीं कर सकते। इतने दिनों से हमें शारीरिक और मानसिक संकट से कोई राहत नहीं मिल रही है”।

 

Neet-PG Counselling में दरी की वजह

गौरतलब है कि Neet-PG Counselling एडमिशन में आरक्षण के लिए आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (Economically Backward Class/EWS) श्रेणी में 8 लाख रुपये वार्षिक आय मानदंड पर पुन: विचार किया जा रहा है। फिलहाल यह मुद्दा सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है। जिसके कारण नीट पीजी काउंसलिंग में देरी हो रही है। वहीं अदालत की अगली सुनवाई 6 जनवरी 2022 को निर्धारित की गई है।

चिकित्सा निकाय ने केंद्र सरकार और सुप्रीम कोर्ट से रेजिडेंट डॉक्टरों की शिकायत पर ध्यान देने और Neet-PG Counselling तथा प्रवेश प्रक्रिया को जल्द करने पूरा करने का अनुरोध किया है। जिससे अदालती कार्यवाही को जल्दी पूरा किया जा सके। 

देखें यह वीडियो: पहली बार पुरुषों के मुकाबले महिलाओं की संख्या ज्यादा 

 

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें.. और OTT INDIA App डाउनलोड अवश्य करें.. स्वस्थ रहें..

No comments

leave a comment