Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Saturday / November 27.
Homeहेल्थNFHS5: ऐसा पहली बार हुआ जब गांवों में महिलाओं की आबादी पुरुषों की अपेक्षा ज्यादा

NFHS5: ऐसा पहली बार हुआ जब गांवों में महिलाओं की आबादी पुरुषों की अपेक्षा ज्यादा

Girls ratio increase in india
Share Now

देश में कई वर्षों से पुरुषों की आबादी महिलाओं की आबादी के अपेक्षा अधिक रही है जहां प्रति 1000 पुरुषों पर महिलाओं की संख्या का आंकड़ा 999 था। लेकिन NFHS-5 Sex Ratio Data (2019-2021) के अनुसार अब 1000 पुरुषों पर महिलाओं की आबादी 1020 दर्ज हुई है। यानी ऐसा पहली बार हुआ है जब देश में महिलाओं की संख्या एक हजार के पार पहुंची है।
National Family Health Survey 5 की रिपोर्ट के मुताबिक यह रेशियो गांवों में ज्यादा बढ़ा है। 

शहरों की अपेक्षा गांवों में Fertility Rate में कमी 

देश के ऐसे कई राज्य हैं जहां प्रति हजार पुरुषों की तुलना में महिलाओं की संख्या 1000 से अधिक दर्ज हुई है। हरियाणा, मध्यप्रदेश, बिहार, ओडिशा, झारखंड, राजस्थान, उत्तरप्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, तमिलनाडु, दिल्ली राज्य शामिल है। वहीं बात करें NFHS-4 के रिपोर्ट सर्वे की तब गांवों में प्रति 1,000 पुरुषों पर 1,009 महिलाएं थीं और शहरों में ये आंकड़ा 956 जितना था। 

NFHS-5 Sex Ratio Data के मुताबिक Fertility Rate में भी कमी दर्ज हुई है, वर्ष 2015-16 में यह रेट 2.2 पर था जो कि वर्ष (2019-21) में Fertility Rate 2 पर आ गया है। 

यहां पढ़ें: 30 साल बाद हर आंख पर चढ़ा होगा चश्मा, रिसर्च में हैरान कर देने वाला खुलासा

भारत और दूसरे चरण के States/UTs के NFHS-5 Sex Ratio Data:

Total fertility rate, नेशनल लेवल पर प्रति महिला बच्चों की औसत संख्या 2.2 से घटकर 2.0 हो गई है और सभी 14 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में चंडीगढ़ में 1.4 से लेकर उत्तर प्रदेश में 2.4 हो गई है। मध्य प्रदेश, राजस्थान, झारखंड और उत्तर प्रदेश को छोड़कर सभी चरण-II राज्यों ने प्रजनन क्षमता का प्रतिस्थापन स्तर (2.1) हुआ है।

Cardiopulmonary resuscitationअखिल भारतीय स्तर पर पंजाब को छोड़कर सभी राज्यों और प्रदेशों में 54 प्रतिशत से 67 प्रतिशत तक बढ़ गई है। लगभग सभी क्षेत्रों में Contraceptives के आधुनिक तरीकों का उपयोग भी बढ़ा है।

• परिवार नियोजन में 13 प्रतिशत से 9 प्रतिशत की महत्वपूर्ण गिरावट दर्ज हुई है। झारखंड (12 प्रतिशत), अरुणाचल प्रदेश (13 प्रतिशत) और उत्तर प्रदेश (13 प्रतिशत) को छोड़कर सभी राज्यों में घटकर 10 प्रतिशत से कम हो गई है।

यहां पढ़ें: Sickle Cell Disease: जानिए सिकल सेल रोग के प्राथमिक लक्षणों से कैसे बचा जाए?

NFHS-4 और NFHS-5 Sex Ratio Data की तुलना में 2015-16 से 2019-20 के बीच पंजाब को छोड़कर सभी क्षेत्रों में सुधार हुए है।

देखें यह वीडियो: 5 tips to relieve stress 

 

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें.. और OTT INDIA App डाउनलोड अवश्य करें.. स्वस्थ रहें..

No comments

leave a comment