Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Wednesday / August 17.
Homeन्यूजPatna Serial Blast: नरेन्द्र मोदी की हुंकार रैली में धमाका करने वाले 9 लोग दोषी करार, 1 बरी

Patna Serial Blast: नरेन्द्र मोदी की हुंकार रैली में धमाका करने वाले 9 लोग दोषी करार, 1 बरी

Patna Serial Blast
Share Now

बिहार की राजधानी पटना का गांधी मैदान आज के ठीक आठ साल पहले लगातार हुए बम धमाकों (Patna Serial Blast) से दहल उठा था. एक के बाद एक हुए धमाके में 6 लोगों की जान गईं थी जबकि 80 से ज्यादा लोग घायल हुए थे. उस वक्त पीएम पद के प्रत्याशी नरेन्द्र मोदी ने धैर्य का परिचय दिया और रैली को संबोधित किया. कहते हैं कि धमाकों के बावजूद रैली में भगदड़ नहीं मची, आज उसी मामले में एनआईए कोर्ट (NIA Court) का फैसला आया है.

8 साल बाद एनआईए कोर्ट का फैसला

पटना के गांधी मैदान और पटना जंक्शन पर हुए धमाके (Patna Serial Blast) के मामले में आठ साल बाद आज उसी तारीख को एनआईए कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया है, जिस दिन ये धमाके हुए थे. एनआईए कोर्ट ने इस मामले में 9 लोगों को दोषी करार दिया है जबकि 1 को सबूत के अभाव में बरी कर दिया है. बता दें कि धमाके के बाद बिहार-झारखंड में छापेमारी कर कुल दस लोगों को गिरफ्तार किया गया था.

आज के दिन हुआ था धमाका, आज ही आया फैसला

8 साल पहले के उस दिल दहला देने वाले दौर की तस्वीरें आज भी लोगों के जेहन में जिंदा हैं. जानकारी के मुताबिक 27 अक्टूबर 2013 को सबसे पहले पटना जंक्शन के एक शौचालय में धमाका हुआ. जिससे सनसनी फैल गई, उसके बाद एक के बाद एक गांधी मैदान में कई विस्फोट (Patna Serial Blast) हुए. उसी समय गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री और मौजूदा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) की गांधी मैदान (Gandhi Maidan) में रैली थी.

ये भी पढ़ें: Delhi Blast 2008: 5 सिलसिलेवार बम धमाकों से दहल उठी थी दिल्ली, 2018 में गिरफ्तार हुआ मास्टरमाइंड

हुंकार रैली में उमड़ी थी लाखों की भीड़

साल 2014 के लोकसभा चुनाव के मद्देनजर एनडीए (NDA) की ओर से आयोजित हुंकार रैली (Hunkar Rally) में नरेन्द्र मोदी को सुनने के लिए लाखों लोगों की भीड़ गांधी मैदान में जमा थी. धमाके की ख़बर जैसे ही पुलिस के आलाधिकारियों को मिली तो उन्होंने रैली रद्द करने की सलाह दी लेकिन धमाकों के बीच मोदी ने जनता को संबोधित किया और धैर्य से काम लेने की सलाह दी. हालांकि भाषण के बाद घायलों से मिलने अस्पताल भी पहुंचे. शुरुआती वक्त में पुलिस इसे छोटा धमाका समझ रही थी लेकिन बाद में जब एनआईए ने जांच शुरू की तो दस लोगों को गिरफ्तार किया गया, जिसमें से 9 को दोषी करार दिया गया है, 1 नवंबर को इन्हें सजा सुनाई जाएगी.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment