Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Wednesday / May 18.
Homeनेचर एंड वाइल्ड लाइफपक्षी जो हवा से है ज्यादा तेज, जिसे जातक कथा में कहा जाता है पक्षियों का राजा

पक्षी जो हवा से है ज्यादा तेज, जिसे जातक कथा में कहा जाता है पक्षियों का राजा

Osprey
Share Now

एक पक्षी जिसका जिक्र है, बुद्ध धर्म की जातक कथाओं में हैं. पक्षी जो कथानुसार कहलाता है पक्षियों का राजा. पक्षी का नाम  है Osprey. Osprey के वंश का नाम Pandion, Pandíōn Πανδίων नाम के माथोलोजिकल एथेन के राजा के नाम से पडा है. जब कि haliaetus एक पुराना ग्रीक शब्द है Hali का मतलब होता है समुद्र और aetus का मतलब होता है  ईगल यानी गरूड.

यहाँ भी पढ़ें : बाघों का गढ़ः हजारों शासक बदले लेकिन कभी इन राजाओं का राज नहीं बदला

ओस्प्रे की दो प्रजातियां पूरे विश्व में देखने को मिलती हैं. पेरेग्रिन फाल्कन के बाद सबसे ज्यादा जगह पर मिलने वाले पक्षियों में से एक है.

ओस्प्रे की शक्ति

आकाश में एक किलोमीटर से ज्यादा की ऊंचाई पर ओस्प्रे उड़ते हैं.  इतनी ऊंचाई से मछलियों को देख लेता है. जिसके बाद आकाश में ही हावरिग करता है यानी एक जगह पर स्थिर होकर उड़ता है.

osprey

जब मछली सतह के पास आती है तब अपनी तेजी के लिए कुख्यात ओस्प्रे मछली पर तीक्ष्ण पंजे से झपट्टा मारता है. तेज धारवाले टेलन से मछली को पकडकर उड जाता है. ओस्प्रे उड़ते हैं तब प्रत्येक पंख अक्सर धनुषाकार होता है और आंशिक रूप से “V” आकार में झुकता है.

ओस्प्रे का देखावः

लंबे और सिकुडे हुए पंख,पेट का भाग सफेद रंग का होता है. चहरे के आसपास का भाग गहरे भूरे रंग का होता है. छाती के ऊपरी भाग और गरदन में गहरे काले या ब्राउन रंग के निशान होते है. पूंछ का रंग काला और सफेद होता है.  आमतौर पर फिश ईगल या ओस्प्रे शांत होता है लेकिन घोसले के पास सीटी जैसा अवाज करता है.

यहाँ भी पढ़ें : भारतीय वन्यजीवों को आतंकी कुत्तों से खतरा, आवारा कुत्तों से वन्यजीवों की आबादी खतरे में

नर ओस्प्रे का वजन 1 किलोग्राम से लेकर 1.6 किलोग्राम तक होता है. जबकि मादा का वजन 2 किलोग्राम से भी ज्यादा हो सकता है. उनके पंख की चौडाई 6 फिट जितनी हो सकती है.

ओस्प्रे का जीवन

ओस्प्रे 20 साल तक जिंदा रह सकते हैं. मेटींग के बाद मादा एक से चार अंडे देती हैं. क्रिमी व्हाईट अंडों में से 5 या 6 हप्तों के बाद बच्चे बाहर निकलते हैं. Osprey सर्दियों के समय में गर्म जगहों का रूख करता हैं. अपने ब्रीडिंग सेंटर को छौड ओस्प्रे गर्म जगहों की तरफ जाते है. ओस्प्रे सर्दियां बिताने के लिए एक अच्छी जगह की तलाश में मजबूत पंखों से 5,000 किलोमीटर से अधिक सफर कर सकते हैं. और इसी तरह पुरे विश्व के समुद्र,नदियां और तालाबों के पास मछली खाता देखा जा सकता है.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

No comments

leave a comment