Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Sunday / January 16.
Homeन्यूज…जब ट्रेन ड्राइवर ने दही खरीदने के लिए रोक दी रेल, रेल मंत्री ने नौकरी से हटाया

…जब ट्रेन ड्राइवर ने दही खरीदने के लिए रोक दी रेल, रेल मंत्री ने नौकरी से हटाया

pakistan viral video
Share Now

Pakistan Viral Video: पाकिस्तान से अजीबोगरीब वीडियो अक्सर सामने आते रहते है। कभी इमरान सरकार के मंत्री अजीबोगरीब भाषण देते है, तो कभी वहां की जनता ऐसी घटना को अंजाम देती है जो फिर दुनिया में चर्चा का विषय बन जाती है। लेकिन हाल ही में पाकिस्तान में एक ऐसा वीडियो वायरल (Pakistan Viral Video) हो रहा है, जिसको देखने के बाद हर कोई हैरान है। पाकिस्तान में एक ट्रेन ड्राइवर की करतूत अब सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है। चलिए आपको बताते है आखिर क्या था ये पूरा मामला…

दही खरीदने के लिए रोक दी रेल:

रेल के कड़े नियमों के बारें में तो आपने सुना ही होगा। लेकिन पाकिस्तान में नियमों को ताक में रखना आम बात है। चाहे वो मंत्री, अफसर या फिर कोई कर्मचारी हो.. नियम तोड़ने से परहेज नहीं करते है। अब हुआ ऐसा कि लाहौर स्टेशन पर ट्रेन के ड्राइवर को दही खाने की इच्छा हो गई तो उसने स्टेशन पर ट्रेन को खड़ा कर दिया और उतर के दही लाने चला गया। इस पुरे घटनाक्रम का किसी ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

ट्रेन ड्राइवर की चली गई नौकरी:

दही लाने के लिए ट्रेन को बीच में खड़ा करके जाने वाले ट्रेन के ड्राइवर की वीडियो वायरल होने के बाद नौकरी चली गई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक वीडियो सामने आने के बाद पाकिस्तान के रेल मंत्री आजम खान ने ट्रेन के लोको पायलट राणा मोहम्मद शहजाद और उसके असिस्टेंट को निलंबित कर दिया है। रेल मंत्री ने इस मामले को लेकर कहा कि ‘इस तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। किसी को भी व्यक्तिगत काम के लिए राष्ट्रीय संपत्ति के इस्तेमाल की अनुमति नहीं दी जाएगी।

पूरा वीडियो 32 सेकेंड:

चलिए अब बात करते है उस वायरल वीडियो के बारें में जिसके चलते ट्रेन ड्राइवर की नौकरी चली। यह वीडियो पाकिस्तान सहित कई अन्य देशों में भी जमर वायरल हो रहा है। 32 सेकेंड के इस वीडियो में साफ़ दिखाई दे रहा है रात के अंधेरे में ट्रेन की लाइट जली हुई थी और ट्रेन का चालक का साथी दही लेकर आता दिखाई दे रहा है।

इसे भी पढ़े: CDS बिपिन रावत के निधन पर पीएम मोदी सहित तमाम बड़े नेताओं ने जताया गहरा दुख

No comments

leave a comment