Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Sunday / June 26.
Homeन्यूजराहुल-प्रियंका गांधी ने साधा केंद्र सरकार पर निशाना, कहा- आप वोटों के हमदर्द

राहुल-प्रियंका गांधी ने साधा केंद्र सरकार पर निशाना, कहा- आप वोटों के हमदर्द

Parliament Winter Session
Share Now

Parliament Winter Session: सोमवार से संसद के शीतकालीन सत्र की शुरुआत हो गई है। पहले दिन की शुरुआत में सात नए सदस्यों को शपथ दिलाई गई। लेकिन बाद में विपक्षी सदस्यों के हंगामे के कारण दोनों सदनों की कार्यवाही बाधित हुई। विपक्षी नेताओं ने MSP और किसानों की मौत के मुद्दे पर सरकारों को घेरा है। हंगामें के चलते पहले दिन सदन की कार्यवाही को बार-बार रोकना पड़ा। हंगामे के कारण दोनों सदनों (Parliament Winter Session) में शून्यकाल एवं प्रश्नकाल भी सामान्य ढंग से नहीं चल पाया।

सरकार को जनता के मुद्दों से कोई लेना-देना नहीं: राहुल गांधी

बता दें पहले से ही सदन की कार्यवाही में हंगामा होने के कयास लगाए जा रहे थे। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने MSP और किसानों की मौत के मुद्दे पर सरकारों को घेरा है। राहुल गांधी ने कहा कि डरपोक सरकार, MSP और किसानों की मौत के मुद्दों पर चर्चा करने से बच रही है। राहुल गांधी का कहना है कि सरकार हर बार की तरह इस बार भी जनता के मुद्दों पर चर्चा करने से बच रही है। उसे जनता के मुद्दों से कोई लेना-देना नहीं है। इसके बाद राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि चर्चा नहीं होने दी- MSP पर, शहीद अन्नदाता के लिए न्याय पर, लखीमपुर मामले में केंद्रीय मंत्री की बर्ख़ास्तगी पर…जो छीने संसद से चर्चा का अधिकार, फ़ेल है, डरपोक है वो सरकार।

मोदी जी आप किसानों के हमदर्द नहीं हैं: प्रियंका गांधी

प्रियंका गांधी ने भी सरकार पर निशाना साधते हुए लिखा कि ”किसान आंदोलन में 700 किसान शहीद हुए, उनकी शहादत के बारे में आज संसद में एक लफ़्ज नहीं कहा गया, न श्रद्धांजलि देकर आदर किया गया। अनगिनत किसानों के संघर्ष और शहादत ने हमें आज़ादी दिलाई जिससे हमें संविधान मिला किसान क़ानूनों, MSP की माँग और लखीमपुर नरसंहार की चर्चा किए बगैर संसद की कार्यवाही की गयी। नरेंद्र मोदी जी आपकी बातें खोखली हैं, आप किसानों के हमदर्द नहीं हैं, आप वोटों के हमदर्द हैं।”

12 राज्यसभा सांसद पूरे सत्र के लिए सस्पेंड:

संसद भवन में मॉनसून सत्र के हंगामे पर शीतकालीन सत्र में 12 सांसदों को सस्पेंड किया गया है। इसमें फुलो देवी नेताम, छाया वर्मा, आर बोरा, राजमणि पटेल, सैयद नासिर हुसैन और अखिलेश प्रताप सिंह। इन सांसदों के अलावा सीपीएम के एलमरम करीम, सीपीआई के विनय विश्वम, टीएमसी के शांता छेत्री और डोला सेन जबकि शिवसेना की प्रियंका चतुर्वेदी और अनिल देसाई को भी राज्यसभा की कार्रवाई से पूरे सत्र के लिए निष्कासित कर दिया गया है।

यहां पढ़ें: कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर कांग्रेस सांसदों का विरोध प्रदर्शन

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment