Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Thursday / December 1.
Homeन्यूजसांख्यिकी के पितामह पीसी महालनोबिस ने बदली थी देश की आर्थिक तस्वीर, जानिए

सांख्यिकी के पितामह पीसी महालनोबिस ने बदली थी देश की आर्थिक तस्वीर, जानिए

PC Mahalanobis Biography
Share Now

PC Mahalanobis Biography: भारत के प्रसिद्ध वैज्ञानिक और भारतीय सांख्यिकी संस्थान के संस्थापक प्रशांत चंद्र महालनोबिस (PC Mahalanobis Biography) का जन्म 29 जून को हुआ। प्रशांत चंद्र महालनोबिस की जयंती ‘राष्ट्रीय सांख्यिकी दिवस ’के रूप में मनाई जाती है। महालनोबिस का जन्म 29 जून 1893 को पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में हुआ था। महालनोबिस को उनकी महालनोबिस दूरी के लिए जाना जाता है। इतना ही नहीं वो भारत के पहले योजना आयोग के सदस्यों में से भी एक थे।

PC Mahalanobis Biography

‘महालनोबिस मॉडल’के लिए आज भी किया जाता है उनको याद:

1954 में पीसी महालनोबिस ने दूसरी पंचवर्षीय योजना का ड्राफ्ट योजना आयोग को दिया। महालनोबिस का कहना था कि रोज़गार से उपभोक्ता वस्तुओं के इस्तेमाल को बढ़ावा मिलेगा और देश में तरक्की आएगी। उनकी इस पूरी योजना को ‘महालनोबिस मॉडल’ कहा गया। उन्हें सांख्यिकी के क्षेत्र में किए गए उनके अतुलनीय काम के लिए जाना जाता है। इसके अलावा सेंसस स्टडी में जनगणना के लिए काम आने वाले ‘महालनोबिस मॉडल’ के लिए भी उनको याद किया जाता है।

PC Mahalanobis Biography

पीसी महलानोबिस का करियर:

अपनी शिक्षा पूरी करने के बाद, उन्होंने कैवेंडिश प्रयोगशाला में सीटीआर विल्सन के साथ काम किया और बाद में प्रेसीडेंसी विश्वविद्यालय में भौतिकी के प्रोफेसर के रूप में काम किया। अपने पद पर रहते हुए उन्होंने सांख्यिकी में रुचि रखने वाले लोगों के लिए एक समूह शुरू किया। बाद में यह समूह बढ़ने लगा और अंततः भारतीय सांख्यिकी संस्थान में बदल गया। आईएसआई 1932 में पंजीकृत किया गया था। 1933 में उन्होंने सांख्य पत्रिका शुरू की। महलानोबिस के नेतृत्व में आईएसआई का काफी विकास हुआ।

यहाँ पढ़ें: अयोध्‍या ऐसी हो जहां भारत की संस्‍कृति की झलक दिखे: PM Modi

सांख्यिकी में उनका प्रमुख योगदान महालनोबिस दूरी था, जिसे उन्होंने कलकत्ता में एंग्लो-इंडियन के मानवशास्त्रीय माप के अध्ययन के दौरान खोजा था। वह पायलट सर्वेक्षणों के अग्रणी थे। बड़े पैमाने पर सर्वेक्षण में उनका योगदान बहुत बड़ा है। 1937 से 1944 के बीच उन्होंने कई बड़े पैमाने पर सर्वेक्षण किए।

PC Mahalanobis Biography

इन प्रतिष्ठित पुरस्कारों से हुए सम्मानित:

पीसी महालनोबिस को साल 1944 में ‘वेलडन मेडल’ पुरस्कार दिया गया।
महालनोबिस को साल 1945 में लन्दन की रायल सोसायटी ने अपना फेलो नियुक्त किया।
सन 1950 में उन्हें ‘इंडियन साइंस कांग्रेस’ का अध्यक्ष चुना गया।
1954 में उन्हें रॉयल स्टैटिस्टिकल सोसाइटी का मानद फेलो नियुक्त किया गया।
सन 1968 में भारत सरकार ने पीसी महालनोबिस को पद्म विभूषण से सम्मानित किया।
सन 1968 में उन्हें श्रीनिवास रामानुजम स्वर्ण पदक दिया गया।

यहाँ पढ़ें: SBI Aarogyam Loan: SBI दे रही है 10 लाख से 100 करोड़ तक का लोन!

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment