Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / May 17.
Homeन्यूजPegasus जासूसी विवाद पर जोरदार हंगामा, कांग्रेस-सपा-बसपा हुए एक साथ

Pegasus जासूसी विवाद पर जोरदार हंगामा, कांग्रेस-सपा-बसपा हुए एक साथ

Pegasus Spyware
Share Now

Pegasus Spyware: संसद के मॉनसून सत्र के दूसरे दिन भी विपक्ष जोरदार हंगामा कर रहा है। पहले कयास लगाए जा रहे थे कि विपक्ष बढ़ते पेट्रोल-डीजल के दामों, किसान आंदोलन पर सरकार को घेरेगा। लेकिन पहले ही दिन फोन हैकिंग मामले (Pegasus spyware) के सामने आने के बाद कल से विपक्ष केंद्र सरकार के खिलाफ हल्ला बोल रहा है। सभी पार्टियां इस मसले को उठा रही है। साथ ही इस मामले पर ज्वाइंट पार्लियामेंट्री कमेटी जांच कराने की मांग की गई है।

PEGASUS

कांग्रेस-सपा-बसपा का वार:

सबसे बड़ी बात इस मामले पर कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और बसपा के साथ हो गई है। जो यूपी में सीएम योगी आदित्यनाथ की टेंशन बढ़ा देने वाली साबित हो सकती है। क्योकि अगर ये तीनों पार्टियां यूपी चुनाव में एक साथ हो गए तो भाजपा के लिए फिर वहां जीत पाना बहुत ही मुश्किल हो जायेगा।

CONGRESS

अधीर रंजन चौधरी ने इस मसले पर केंद्र सरकार को घेरा:

लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने इस मसले पर केंद्र सरकार को घेरा। अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि बीजेपी लोकतंत्र के बजाय जासूसी तंत्र चला रही है। हमारे नेता राहुल गांधी की भी जासूसी की गई है, गृह मंत्री को इस्तीफा देना चाहिए। अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि इसकी न्यायिक जांच बिठानी चाहिए। जो भी सरकार के खिलाफ है, उसकी जासूसी हो रही है। सरकार चर्चा से भाग नहीं सकती है।

मायावती ने विवाद पर केंद्र सरकार को लिया आड़े हाथों: 

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी की नेता मायावती ने इस विवाद पर केंद्र सरकार को आड़े हाथों लिया। मायावती ने ट्वीट किया कि जासूसी का गंदा खेल व ब्लैकमेल आदि कोई नई बात नहीं, लेकिन काफी महंगे उपकरणों से निजता भंग करके मंत्रियों, विपक्षी नेताओं, अफसरों व पत्रकारों आदि की सुक्षम जासूसी करना अति-गंभीर व खतरनाक मामला जिसका भंडाफोड़ हो जाने से यहां देश में भी खलबली व सनसनी फैली हुई है।

निजता के अधिकार’ का घोर उल्लंघन: अखिलेश यादव

वहीं, समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने इस मसले पर कहा कि फोन की जासूसी करवाकर लोगों की व्यक्तिगत बातों को सुनना ‘निजता के अधिकार’ का घोर उल्लंघन है. अगर ये काम भाजपा करवा रही है तो ये दंडनीय है और अगर भाजपा सरकार ये कहती है कि उसे इसकी जानकारी नहीं है तो ये राष्ट्रीय सुरक्षा पर उसकी नाकामी है. फ़ोन-जासूसी एक लोकतांत्रिक अपराध है।

क्या है पेगासस स्पाइवेयर..?

पेगासस एक स्पाइवेयर है जिसे इसराइली साइबर सुरक्षा कंपनी एनएसओ ग्रुप टेक्नॉलॉजीज़ ने बनाया है। ये एक ऐसा प्रोग्राम है जिसे अगर किसी स्मार्टफ़ोन फ़ोन में डाल दिया जाए, तो कोई हैकर उस स्मार्टफोन के माइक्रोफ़ोन, कैमरा, ऑडियो और टेक्सट मेसेज, ईमेल और लोकेशन तक की जानकारी हासिल कर सकता है।

यहाँ पढ़ें: राज कुंद्रा की पूरी कुंडली, इनके पिता थे बस कंडक्टर फिर कैसे हुए मालामाल!

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment