Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / January 25.
Homeन्यूजसियासत: इत्र कारोबारी पीयूष जैन मामले में नया मोड़, इस राजनीतिक पार्टी से जुड़े खजाने के तार

सियासत: इत्र कारोबारी पीयूष जैन मामले में नया मोड़, इस राजनीतिक पार्टी से जुड़े खजाने के तार

Piyush Jain Kanpur: Politics: New twist in the case of perfume trader Piyush Jain, the strings of the treasury associated with this political party
Share Now

Piyush Jain Kanpur: चुनाव से पहले आयकर विभाग की रेड, करोड़ों की राशि एक साथ मिलना, या किसी नेता या पार्टी का गैरकानूनी मामलों में संलिप्त होना. ये कोई नई बात नहीं है. चुनावी दिनों में ऐसी खबरें आम लगती हैं. लेकिन पिछले तीन दिनों से उत्तर प्रदेश की सियासत में एक खबर ने मानों बवाल मचा दिया है. आज से पहले कानपुर के इत्र करोबारी पीयूष जैन को कौन ही जानता था लेकिन जैसे ही पीयूष जैन के घर आयक विभाग और गुजरात की डीजीजीआई की टीम पहुंची वैसे ही मानों इस मामले के तार प्रेदश की सियासत से जुड़ने लगे.

आयकर विभाग और गुजरात डीजीजीआई की टीम ने जब कानपुर में पीयूष जैन के घर छापेमारी की तो करोड़ों की राशि देख हर कोई हैरान परेशान हो गया. इस मामले में कारोबारी पीयूष जैन के बेटे को लेकर आयकर विभाग की टीम और डीजीजीआई की टीम कन्नौज के छिपट्टी मोहल्ला पहुंची. यहां इत्र और कंपाउंड कारोबारियों के घर छापेमारी पूरी रात चली.

खबरों की मानें तो पीयूष जैन (Piyush Jain Kanpur) के घर से अभी तक नौ ड्रम संडल तेल, दो हजार रुपये वाले नोट का एक बड़ा गत्ता जिसमें करीब साढ़े चार करोड़ रुपये हैं साथ ही  दस रुपये के पुराने नोट की गड्डियां जो करीब डेढ़ लाख रुपये की हैं, इसके साथ ही करीब एक करोड़ रुपये के जेवर, एक झोला चाबी (करीब तीन सौ से चार सौ चाबी) मिली है.

पीयूष जैन पर सियायत तेज

कन्नौज मामले में दिन बे दिन सियासत तेज होती जा रही है. मामले के सामने आने के बाद बीजेपी ने इसे समाजवादी पार्टी से जोड़ा था. लेकिन अब इस मामले में नया मोड़ सामने आ गया है. बीजेपी के आरोपों के बीच समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की है. अखिलेश यादव ने ट्वीट कर बीजेपी पर निशाना साधा है.इस मामले पर अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा सुबह तलक चीखकर सुना रहे थे कुछ ख़बरनवीस ‘जिसके’ गुनाह की कहानी… ‘उसका’ बादशाह से ताल्लुक़ निकलते ही शाम तलक वो खामोश हो गये…

सपासे कनेक्शन

क्योंकि मामला कन्नौज से जुड़ा है तो पीयूष जैन का नाम समाजवादी पार्टी से भी जुड़ रहा है. खबरों की मानें तो कानपुर के इत्र कारोबारी पीयूष जैन वो शख्स हैं जिन्होंने समाजवादी पार्टी का इत्र बनाया था. इस मामले के सामने आने के बाद चुनाव से पहले इस पर सियासत भी गर्मा गई है. सपा का नाम जुड़ते ही बीजेपी ने पार्टी पर आरोप लगाने शुरु कर दिए हैं. बीजेपी पीयूष जैन को सपा का करीबी बता रही है. मगर सामजवादी पार्टी ने इन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है. इस मामले पर सपा का कहना है कि पीयूष जैन सपा का कोई नेता नहीं है.

इसे भी पढ़े: कौन है कानपुर के इत्र कारोबारी पीयूष जैन, जिनके घर से आयकर विभाग को मिला करोड़ों का खजाना, जानें सबकुछ

No comments

leave a comment