Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Wednesday / May 18.
Homeन्यूजटेक्सटाइल सेक्टर में होगी एक नए युग की शुरुआत, PLI स्कीम को मंजूरी

टेक्सटाइल सेक्टर में होगी एक नए युग की शुरुआत, PLI स्कीम को मंजूरी

PIL Scheme
Share Now

नई दिल्ली: PLI scheme for textile: ‘आत्मनिर्भर भारत’ की दिशा में एक और अहम कदम आगे बढ़ाते मोदी सरकार ने 10,683 करोड़ रुपये के बजट परिणाम के साथ MMF Apparel, MMF Fabrics, और तकनीकी वस्त्रों के 10 खंडों/उत्पादों हेतु वस्त्र उद्योग के लिए ‘PLI Scheme’ को मंजूरी दे दी है। वस्त्र उद्योग के लिए PLI के साथ-साथ RoSCTL (Rebate of State and Central Taxes and Levies), RoDTEP (Remission of Duties and Taxes on Exported Products) और इस क्षेत्र में सरकार के अन्य उपायों जैसे कि प्रतिस्पर्धी कीमतों पर कच्चा माल उपलब्ध कराने, कौशल विकास, इत्‍यादि से वस्‍त्र उत्‍पादन (Textile industry) में एक नए युग की शुरुआत होगी। 

पांच वर्षों में कम से कम लगभग 1 करोड़ रोजगार पैदा होने की उम्मीद

वस्त्र उद्योग के लिए 1.97 लाख करोड़ रुपये के परिव्यय वाली पीएलआई योजना (PLI scheme for textile) केन्द्रीय बजट 2021-22 में 13 क्षेत्रों के लिए पहले घोषित की गई पीएलआई योजनाओं का हिस्सा है। 13 क्षेत्रों के लिए पीएलआई योजनाओं की घोषणा के साथ, भारत में न्यूनतम उत्पादन पांच वर्षों में लगभग 37.5 लाख करोड़ रुपये का होगा और पांच वर्षों में कम से कम लगभग 1 करोड़ रोजगार पैदा होने की उम्मीद है।

इस योजना से देश में अधिक मूल्य वाले एमएमएफ फैब्रिक, गारमेंट्स और तकनीकी वस्त्रों के उत्पादन को काफी बढ़ावा मिलेगा। इसके तहत प्रोत्साहन संबंधी संरचना कुछ इस प्रकार से तैयार की गई है जिससे उद्योग इन खंडों या क्षेत्रों में नई क्षमताओं में निवेश करने के लिए प्रोत्साहित होगा। 

पीएलआई स्कीम क्या है? 

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई पीएलआई स्कीम (PLI Schemes) स्कीम में मैन्यूफैक्चरिंग को बढ़ावा मिलता है इसलिए देश में मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा देने के लिए PLI स्कीम की शुरुआत की गई  जिसके जरिए कंपनियों को भारत में अपनी यूनिट लगाने और एक्सपोर्ट करने पर विशेष रियायत के साथ-साथ वित्तीय सहायता मिलती है। यह अनुमान है कि पांच वर्षों की अवधि में ‘वस्‍त्र उद्योग के लिए पीएलआई योजना’ से 19,000 करोड़ रुपये से भी अधिक का नया निवेश होगा। 

National Technical Textiles Mission:-

Technical Textiles नए जमाने का वस्‍त्र है, जिसका उपयोग अवसंरचना, जल, स्वास्थ्य एवं स्वच्छता, रक्षा, सुरक्षा, ऑटोमोबाइल, विमानन सहित अर्थव्यवस्था के कई क्षेत्रों में होने से अर्थव्यवस्था के इन सभी क्षेत्रों में दक्षता काफी बढ़ जाएगी। सरकार ने इस क्षेत्र में अनुसंधान एवं विकास संबंधी प्रयासों को बढ़ावा देने के लिए अतीत में एक ‘ National Technical Textiles Mission’ भी शुरू किया है। 

इस योजना से विशेषकर गुजरात, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, पंजाब, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, ओडिशा इत्‍यादि राज्यों पर सकारात्मक असर होगा। इस उद्योग को पिछड़े क्षेत्र में जाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। 

  • इस योजना के तहत 3 लाख करोड़ रुपये से भी अधिक का संचयी कारोबार होगा, और इस सेक्‍टर या क्षेत्र में 7.5 लाख से भी अधिक लोगों के लिए अतिरिक्त रोजगार मिलेगा
  • इसके साथ-साथ सहायक गतिविधियों के लिए लाखों रोजगार सृजित होंगे 
  • वस्‍त्र उद्योग मुख्य रूप से महिलाओं को रोजगार देता है, इसलिए यह योजना महिलाओं को सशक्त बनाएगी और औपचारिक अर्थव्यवस्था में उनकी भागीदारी बढ़ेगी।

परिणामस्वरूप भारत को वैश्विक वस्‍त्र व्यापार में अपना ऐतिहासिक प्रभुत्‍व फि‍र से हासिल करने में काफी मदद मिलेगी। 

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें OTT INDI App पर….  

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment