Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Friday / October 7.
Homeन्यूजUN में पीएम मोदी का भाषण

UN में पीएम मोदी का भाषण

Share Now

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार रात संयुक्त राष्ट्र की अहम मीटिंग को वर्चुअली संबोधित किया। बंजर होती जमीन और सूखे के हालात पर हुई इस मीटिंग में प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत ने हमेशा धरती को मां का दर्जा दिया है। कम होती उपजाऊ भूमि और सूखा मानवता के लिए चिंता का कारण हैं। यह पूरी दुनिया के लिए खतरे का संकेत हैं।

Image Source: Google

विकासशील देशों को ज्यादा खतरा

मोदी ने कहा- जमीन का कम होता उपजाऊपन विकासशील देशों और दुनिया के लिए बड़ा खतरा है। भारत इस मामले में अपने सहयोगी विकासशील देशों की मदद कर रहा है ताकि लैंड रेस्टोरेशन किया जा सके। इसके लिए हमने देश में सेंटर फॉर एक्सीलेंस भी तैयार किया है, ताकि इस मामले पर हम दुनिया की मदद कर सकें। हमने कई और कदम उठाए हैं। कच्छ के रण में इस कारण काफी दिक्कतें आती थीं। वहां बारिश भी बहुत कम होती है।

मोदी ने कहा कि हमने कच्छ के रण में भूमि को उपजाऊ बनाने के लिए घास लगाने पर फोकस किया और इससे जमीन को बंजर और मरूस्थली बनने से रोका गया। यह प्राकृतिक तरीका काफी कारगर साबित हुआ। 

पीएम मोदी ने भाषण मे कहे ये बातें…..

  • हम 2030 तक 26 मिलियन हेक्टेयर खराब भूमि को बहाल करने की दिशा में काम कर रहे हैं।
  • भारत में पिछले 10 साल में लगभग 30 लाख हेक्टेयर वन क्षेत्र जोड़ा गया है। इसने संयुक्त वन क्षेत्र को देश के कुल क्षेत्रफल के लगभग 1/4 भाग तक बढ़ा दिया है।
  • दुख की बात है कि भूमि क्षरण आज दुनिया के दो तिहाई हिस्से को प्रभावित करता है। अगर इसे अनियंत्रित छोड़ दिया गया तो यह हमारे समाजों, अर्थव्यवस्थाओं, खाद्य सुरक्षा, स्वास्थ्य, सुरक्षा और जीवन की गुणवत्ता की नींव को ही नष्ट कर देगा।
  • भारत में हमने हमेशा जमीन को महत्व दिया है और पवित्र पृथ्वी को अपनी मां के रूप में मानते हैं। भारत ने अंतरराष्ट्रीय मंचों पर भूमि क्षरण के मुद्दों को उजागर करने का बीड़ा उठाया है।

यह भी पढ़ें: ‘वार मेमोरियल’ पर पुष्‍पचक्र अर्पित कर गलवान के शहीदों को नमन!

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment