Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Saturday / September 24.
Homeन्यूजअमूल दूध कैसे पियेगा इंडिया???

अमूल दूध कैसे पियेगा इंडिया???

price rise in amul products
Share Now

एक तरफ देश मे महामारी की वजह से लोगों की आय प्रभावित हुई है। ऊपर से बढ़ती महंगाई से मध्यम-वर्गीय लोगों की आर्थिक परिस्थिति खराब हो चुकी है। उसमे भी लोगों की जीवन-जरूरी वस्तुओं में से एक ऐसे दूध की कीमत भी बढ़ने जा रही है। यह घोषणा की है देश की सबसे बड़ी दूध उत्पादक कंपनी – अमूल ने। अमूल ने अपनी दूध प्रॉडक्ट्स के दाम बढ़ा दिए है।

price rise in amul products (2)

Image Credit: Google Images

गुजरात कोऑपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन (GCMMF) ने अमूल ब्रांड के सभी दूध (Milk) प्रॉडक्ट्स के भाव बढ़ाने की घोषणा की थी। दूध की कीमतों में 2 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी होने वाली है। यह बदलाव 1 जुलाई से पूरे देश मे प्रभावी होगा। अमूल दूध के सभी ब्रांडों अमूल गोल्ड, ताजा, शक्ति, टी-स्पेशल, साथ ही गाय और भैंस के दूध आदि पर यह भाव बढ़ोतरी प्रभावी होगी।

यहाँ पढे: गूगल ने लॉन्च किया एक नया फीचर

GCMMF के मैनेजिंग डायरेक्टर आर एस सोढ़ी ने अमुल प्रॉडक्ट्स के भाव बढ़ाने के ऊपर बात की है। उन्होंने बताया,”अमूल दूध की कीमतों में कल से पूरे भारत में 2 रुपये प्रति लीटर की वृद्धि की जाएगी। नई कीमतें सभी अमूल दूध ब्रांडों जैसे गोल्ड, ताजा, शक्ति, टी-स्पेशल, साथ ही गाय और भैंस के दूध पर लागू होंगी।”

price rise in amul products

Image Credit: Google Images

उन्होंने बताया कि खाद्य महंगाई बढ़ने के कारण दूध की कीमतों में बढ़ोतरी जरूरी हो गई है। “इसके अलावा, पैकेजिंग की लागत में 30 से 40 प्रतिशत, परिवहन लागत में 30 प्रतिशत और ऊर्जा लागत में 30 प्रतिशत की वृद्धि हुई है, जिसके कारण इनपुट लागत में वृद्धि हुई है।” उन्होंने कहा।

देखे वीडियो: गाइडलाइंस से बप्पा का स्वागत!

हालांकि बढ़ती महंगाई के बीच दूध की कीमतों में बढ़ोतरी से कई उपभोक्ताओं को बड़ा झटका लग सकता है। लेकिन कंपनी ने कहा कि यह वृद्धि औसत खाद्य मुद्रास्फीति(Average Food Inflation) से काफी कम है। कंपनी के बयान में कहा गया है, “2 रुपये प्रति लीटर की वृद्धि एमआरपी में 4% की वृद्धि में तब्दील हो जाती है, जो औसत खाद्य मुद्रास्फीति से काफी कम है।”

price rise in amul products (2)

Image Credit: Google Images

ईस भाव वृद्धि से दुग्ध उत्पादकों को लाभ होगा क्योंकि उपभोक्ताओं द्वारा दूध के लिए भुगतान किए गए प्रत्येक रुपये में से लगभग 80 पैसे दूध उत्पादकों को देने की कंपनी की नीति है।

यहाँ पढे: इस व्यक्ति ने की भूत के खिलाफ पुलिस फ़रियाद, जानिए पूरा किस्सा

देश में दूध की कीमत आखिरी बार दिसंबर 2019 में बढ़ाई गई थी, जब अमूल ने गुजरात, दिल्ली-एनसीआर, पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र में कीमत 3 रुपये प्रति लीटर बढ़ाई थी। उसी समय, मदर डेयरी ने भी कम आपूर्ति के कारण दिल्ली-एनसीआर में दूध की कीमतों में 3 रुपये प्रति रुपये की वृद्धि की घोषणा की थी।

जब अमूल ने भाव बढ़ाए है तो संभावना है की बाकी की दूध कंपनिया भी अपनी प्रॉडक्ट्स के दाम बढ़ सकती है। क्योंकि दूध के उत्पादन में होने वाले खर्च भी बढ़ रहे है। इसलिए उन खर्च को ध्यान मे रखते हुए कंपनिओ को अपने उत्पाद के भाव बढ़ाने पड़ रहे है।

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Androidhttp://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment