Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Sunday / September 25.
Homeन्यूजराजस्थान भाजपा में सियासी भूचाल, पूर्व मंत्री को पार्टी से किया 6 साल के लिए निष्कासित

राजस्थान भाजपा में सियासी भूचाल, पूर्व मंत्री को पार्टी से किया 6 साल के लिए निष्कासित

rajasthan bjp news
Share Now

Rajasthan BJP News: राजस्थान कांग्रेस में दो फाड़ की बात शायद ही किसी से छुपी होगी। प्रदेश कांग्रेस पायलट-गहलोत खेमें में बटी नज़र आती है। लेकिन राजस्थान भाजपा (Rajasthan BJP News) में भी दो अलग-अलग गुट नज़र आ रहे है। एक गुट प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां तो दूसरा गुट पूर्व सीएम राजे के साथ नज़र आता है। वैसे पूनियां-राजे की तरफ से कोई बयानबाज़ी सामने नहीं है। लेकिन उनके समर्थक रोज बयानबाज़ी करके मामले को तूल देते नज़र आते है।

rajasthan bjp news

लगातार पार्टी के नियमों से परे बयानबाज़ी:

आपको बता दें जब से सतीश पूनियां को भाजपा का प्रदेशाध्यक्ष बनाया है तभी से सीएम फेस को लेकर अटकलों का दौर शुरू हो गया। राजे समर्थक और पूर्व मंत्री रोहिताश शर्मा का एक ऑडियो पिछले महीनें वायरल हुआ था, जिसमें वसुंधरा राजे तीन महीनें में प्रदेश भाजपा को टेक ओवर की बात कहीं गई। उसके बाद सियासी भूचाल आना लाजमी था। पूर्व मंत्री रोहिताश शर्मा भाजपा की तरफ से कारण बताओं नोटिस दिया गया था। सूत्रों के अनुसार हालांकि शर्मा ने उस नोटिस का जवाब भी दिया था। जिससे संगठन जवाब से संतुष्ट नहीं हुआ और शर्मा को 6 साल के लिए पार्टी से निकालने का फैसला किया गया।

cm raje

पार्टी से निष्कासित व्यक्तिगत रंजिश के चलते किया: रोहिताश शर्मा

बताया जा रहा है कि डॉ. रोहिताश शर्मा लगातार पार्टी के विरूद्ध बयानबाजी कर रहे थे। शर्मा पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के समर्थक माने जाते है। पिछले दिनों इन्होने प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनीयां के अलवर दौरे पर भी विवादित बयानबाजी की थी। रोहिताश्व शर्मा ने कहा, ‘मुझे कोई अफसोस नहीं है, जितने दिन पार्टी में रहा वफादारी से काम किया।’ हालांकि शर्मा ने यह भी कहा कि उन्हें पार्टी से निष्कासित करने की कार्रवाई व्यक्तिगत रंजिश के चलते हुई है। पूर्व मंत्री रोहिताश शर्मा ने कहा, ‘मुझे बस अफसोस यह है कि लोगों ने व्यक्तिगत रंजिश निकालने के लिए मुझे पार्टी से निष्कासित किया है।

ramlal sharma mla

चौमू विधायक रामलाल शर्मा पर किया पलटवार:

इस पर प्रदेश मुख्य प्रवक्ता चौमू विधायक रामलाल शर्मा ने इसे गंभीरता से लिया था और कहा था कि वें मूलत: पार्टी के है ही नहीं। इस पर शर्मा ने रामलाल शर्मा पर पलटवार करते हुए कहा था कि वे अभी राजनीति में बच्चे है। राजे के बिना बीजेपी का राजस्थान में कुछ भी नहीं है। ऐसे में ये बयानबाजी का सिलसिला लगातार जारी था। अब प्रदेश भाजपा में यह अंतर्कलह की शुरुआत है, या यहीं समाप्त हो जाएगी? ये तो आने वाले समय पर पता चलेगा।

 

यहाँ पढ़ें: जापानी वास्‍तुकला का नायाब नमूना है ‘रुद्राक्ष’ कन्‍वेंशन सेंटर, जानिए

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment