Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Monday / December 6.
Homeन्यूजतीनों कृषि कानूनों के रद्द होने के ऐलान के बाद बोले राकेश टिकैत, तत्काल वापस नहीं होगा आंदोलन

तीनों कृषि कानूनों के रद्द होने के ऐलान के बाद बोले राकेश टिकैत, तत्काल वापस नहीं होगा आंदोलन

Rakesh Tikait
Share Now

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का ऐलान किया है, जिसे किसानों की बड़ी जीत करार दिया जा रहा है. पीएम मोदी के ऐलान के बाद राकेश टिकैत का पहला बयान सामने आया है, उन्होंने साफ कर दिया है कि भले ही कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा कर दी हो लेकिन अभी किसान घर नहीं लौटेंगे.

आंदोलन तत्काल वापस नहीं होगा- राकेश टिकैत

भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि आंदोलन तत्काल वापस नहीं होगा, हम उस दिन का इंतजार करेंगे जब कृषि कानूनों को संसद में रद्द कर दिया जाएगा. एमएसपी के साथ-साथ सरकार किसानों के दूसरे मुद्दों पर बातचीत करे.

जलेबी बांटकर खुशियां मना रहे किसान 

तीनों कृषि कानूनों की वापसी के बाद गाजीपुर बॉर्डर पर किसान जलेबी बांटकर खुशियां मना रहे हैं. गाजीपुर बॉर्डर से जश्न की तस्वीरें सामने आ रही हैं. 

नरेश टिकैत ने किया था ये ट्वीट 

वहीं नरेश टिकैत ने कृषि कानून रद्द होने से पहले ट्वीट कर ये लिखा था किसान बारूद के ढेर पर बैठे हैं. आंदोलन से ही जिंदा रहेंगे, यह जिम्मेदारी सबको निभानी होगी. जाति और मजबह को भूलकर किसानों को एक होना होगा. सरकार से किसान बेहद नाराज है.

पीएम मोदी ने कानून वापस लेने की बताई ये वजह

बता दें कि पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा कि हम कुछ किसानों को समझा नहीं पाए, इस वजह से हम तीनों कृषि कानूनों को वापस ले रहे हैं. पीएम मोदी ने कहा कि हमारी अपील कि किसान अब खेतों में वापस लौट जाए, हालांकि राकेश टिकैत के बयान के बाद से साफ हो गया है कि फिलहाल तो किसान वापस नहीं लौटने वाले.

ये भी पढ़ें: किसानों के लिए ऐतिहासिक दिन! पीएम मोदी ने किया ऐलान, वापस लिए जाएंगे तीनों कृषि कानून

अध्यादेश के जरिए बना था कानून

गौरतलब है कि कोरोनाकाल में जून 2020 में मोदी सरकार अध्यादेश के तौर पर इन तीन कानूनों को लेकर आई थी, जो सितंबर महीने में कानून बन गया. उसी वक्त से पंजाब-हरियाणा में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया और नवंबर 2020 होते-होते किसानों ने दिल्ली की सीमाओं पर डेरा डाल दिया. अब किसान आंदोलन के लगभग एक साल पूरे होने वाले थे, उससे पहले मोदी सरकार ने इस वापस लेने का ऐलान कर दिया. हालांकि अभी संसद सत्र में कानून रद्द होने के बाद ही किसानों की घर वापसी होगी.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment