Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / August 16.
Homeन्यूजRepublic Day 2022: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्र को किया संबोधित

Republic Day 2022: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्र को किया संबोधित

president
Share Now

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गणतंत्र दिवस(Republic Day 2022) की पूर्व संध्या पर देशवासियों को संबोधित किया. राष्ट्रपति ने कहा कि गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर देश और विदेश में रहने वाले आप सभी भारत के लोगों को मेरी हार्दिक बधाई, यह हम सबको एक सूत्र में बांधने वाली भारतीयता के गौरव का उत्सव है. यह दिन उन महानायकों को याद करने का अवसर भी है, जिन्होंने स्वराज के सपने को साकार करने के लिए अतुलनीय साहस का परिचय दिया.

नेताजी सुभाष चंद्र बोस को किया याद

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद(President Ram Nath Kovind) ने कहा कि दो दिन पहले, 23 जनवरी को हम सभी देशवासियों ने ‘जय-हिन्द’ का उद्घोष करने वाले नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की 125वीं जयंती पर उनका पुण्य स्मरण किया है. स्वाधीनता के लिए उनकी ललक और भारत को गौरवशाली बनाने की उनकी महत्वाकांक्षा हम सबके लिए प्रेरणा का स्रोत है. हम अत्यंत सौभाग्यशाली हैं कि हमारे संविधान का निर्माण करने वाली सभा में उस दौर की सर्वश्रेष्ठ विभूतियों का प्रतिनिधित्व था, वे हमारे महान स्वाधीनता संग्राम के प्रमुख ध्वज-वाहक थे.

नागरिकों ने वैक्सीनेशन अभियान को बनाया सफल

गांधीजी(Gandhiji) को याद करते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि गांधीजी चाहते थे कि हम आत्म-निरीक्षण करें, पहले अपने अंदर झांककर देखें और फिर बाहर भी देखें. लोगों के साथ सहयोग करें और एक बेहतर भारत तथा बेहतर विश्व के निर्माण में अपना योगदान करें. 1930 में महात्मा गांधीजी ने देशवासियों को पूर्व स्वराज दिवस का तरीका समझाया था. राष्ट्र सेवा का कर्तव्य समझते हुए करोड़ों देशवासियों ने स्वच्छता अभियान से लेकर कोविड टीकाकरण अभियान को जन आंदोलन का रूप दिया है. इन अभियानों की सफलता का श्रेय हमारे कर्तव्य परायण नागरिकों को जाता है.

डॉक्टर और नर्स ने मानवता की सेवा की

कोरोनाकाल(Corona Crisis) का जिक्र करते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि अनगितन परिवारों को भयानक विपदा के दौर से गुजरना पड़ा है, हमारी सामूहिक पीड़ा को व्यक्त करने के लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं, लेकिन सांत्वना इस बात की है कि काफी लोगों की जान बचाई जा सकी है. हमने कोरोना वायरस के खिलाफ असाधारण दृढ संकल्प और कार्य-क्षमता का प्रदर्शन किया है. कठिन परिस्थितियों में जान जोखिम में डालकर भी डॉक्टर्स, नर्सेस और पैरामेडिक्स ने मानवता की सेवा की है.

हरियाणा के एक गांव का किया जिक्र

छोटे और मझोले उद्योगों ने लोगों को रोजगार देने और अर्थव्यवस्था को गति प्रदान करने में अहम भूमिका निभाई है. हमारे युवा उद्यमियों ने सफलता के नए कीर्तिमान स्थापित किए हैं. हरियाणा के भिवानी के सूई नाम के गांव के लोगों ने आदर्श ग्राम योजना के तहत अपनी गांव का कायाकल्प कर दिया है. ऐसे उदाहरण से एक नया भारत उभर रहा है, इससे अन्य देशवासी भी अपने-अपने गांव और नगर के विकास में योगदान देंगे.

ये भी पढ़ें: Republic Day Shayari: गणतंत्र दिवस पर अपनों को भेजें ये शायरी, दिल में भर जाएगा देशभक्ति का जज्बा

राष्ट्र निर्माण निरंतर चलने वाला अभियान है

सशस्त्र बलों के सर्वोच्च कमांडर के रूप में मुझे ये बताते हुए प्रसन्नता हो रही है कि यह वर्ष सशस्त्र बलों में महिला सशक्तिकरण की दृष्टि से विशेष महत्वपूर्ण रहा है. वहीं जनरल बिपिन रावत को याद करते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि जब कभी भी किसी वीर सैनिक का निधन होता है पूरा देश शोक संतप्त हो जाता है. 21वीं सदी को जलवायु परिवर्तन के रूप में देखा जा रहा है. भारत ने अक्षय ऊर्जा के लिए वैश्विक मंच पर नेतृत्व की स्थिति बनाई है. हमारी सभ्यता प्राचीन है लेकिन गणतंत्र नवीन है. राष्ट्र निर्माण हमारे लिए निरंतर चलने वाला अभियान है. मुझे विश्वास है हमारा देश प्रगति के पथ पर आगे बढ़ता रहेगा.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment