Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / October 4.
Homeन्यूजरेलवे में नौकरी के नाम पर ट्रेन रोकने, आगजनी करने और छात्रों पर लाठीचार्ज की ख़बरों का दूसरा पहलू ये है

रेलवे में नौकरी के नाम पर ट्रेन रोकने, आगजनी करने और छात्रों पर लाठीचार्ज की ख़बरों का दूसरा पहलू ये है

railway
Share Now

RRB-NTPC Result 2022: रेलवे में नौकरी के नाम(Railway Job) पर बिहार में बवाल मचा हुआ है, कहीं ट्रेन रोक दी जा रही है, कहीं पटरियों पर सैकड़ों की संख्या में स्टूडेंट दिख रहे हैं तो कहीं बोगी में आग लगा दी जा रही है. ये सब इस देश में तब हो रहा था जब देश 73वें गणतंत्र दिवस की तैयारियों में मशगुल था. छात्रों की आवाज को बुलंद करने के लिए कई विपक्षी पार्टियां साथ दिखीं तो सरकार ने सख्ती का रवैया अपनाए रखा.

बिहार पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को पीटा  

बिहार पुलिस(Bihar Police) हॉस्टल में घुस-घुसकर छात्रों को ढूंढती दिखी. जिस बंदूक से गोली चलाने के आरोप पुलिसकर्मियों पर लगा उसकी बट से उन्होंने दरवाजे तोड़कर अंदर से छात्रों का बाहर निकाला और फिर इतना पीटा कि प्रदर्शन का भूत उतर जाए. पटना के सिटी एसपी कहते हैं कि अभी हमारा ये अभियान जारी रहेगा, मतलब प्रदर्शनकारियों के आवाज को पुलिस अपने पावर से दबाना चाहती है.

राहुल गांधी ने समर्थन में किया ट्वीट

सरकारी संपत्तियों को नुकसान पहुंचाकर सरकारी नौकरी की चाहत रखने वाले स्टूडेंट(Student Protest) को जरा भी इस बात का ख्याल नहीं है कि नौकरी उन्हें सरकार ही देगी. कांग्रेस के सांसद राहुल गांधी(Rahul Gandhi) ने बिहार के जहानाबाद का वीडियो ट्वीट कर लिखा है कि अधिकारों के लिए आवाज उठाने को हर नौजवान स्वतंत्र है, जो भूल गए हैं उन्हें याद दिला दो कि भारत लोकतंत्र है, गणतंत्र था और गणतंत्र है.

रेलवे ने रद्द की परीक्षाएं  

छात्रों के विरोध प्रदर्शन(Student Protest Bihar) का असर ये दिखा कि अब रेलवे ने एनटीपीसी सीबीटी-2(NTPC CBT-2) और ग्रुप डी सीबीटी-1 (Group D CBT-1) की परीक्षा को रद्द करने का फैसला लिया है, छात्रों की मांग भी यही थी कि लेकिन विरोध प्रदर्शन के बीच रेलवे एक नोटिस ने प्रदर्शन को और बड़ा बना दिया. रेलवे ने कहा कि जो भी छात्र प्रदर्शन कर रहे हैं उन्हें जिंदगी भर किसी पद पर नौकरी नहीं दी जाएगी, इस बात ने छात्रों को पूरी तरह से भड़का दिया.

railway

Image Courtesy: Google.om

ग्रुप डी भर्ती में दो परीक्षाएं  

इस विरोध प्रदर्शन(Students Protest Bihar) ने तब बड़ा रूप ले लिया जब पता चला कि ग्रुप डी में भर्ती के लिए सिर्फ एक ही एग्जाम नहीं होंगे बल्कि दो परीक्षाएं होंगी. पहले एक ही परीक्षा के बाद ग्रुप डी में नौकरी हो जाती थी लेकिन अब रेलवे(Indian Railway) ने नियम बदल दिया तो छात्र भड़क उठे. इस विरोध प्रदर्शन का एक दूसरा पहलू ये देखने को मिला कि रेलवे ट्रैक पर छात्र राष्ट्रगान गाते दिखे, मतलब विरोध के साथ-साथ देशभक्ति का ऐसा संदेश कि हम तो अपनी मांगों पर अड़े हैं, हमें किसी से क्या लेना-देना. अब छात्रों का ये वीडियो सोशल मीडिया(Viral Video) पर खूब वायरल हो रहा है.

ये भी पढ़ें: IRCTC: भारतीय रेलवे ने यात्रियों के लिए पेश किया ‘POD कॉन्सेप्ट’, जानिए क्या है?

विरोध प्रदर्शन की वजह क्या है

विरोध की तमाम तस्वीरें देखने और पूरी कहानी पढ़ने के बाद अगर आप अब भी नहीं समझ पाए कि विरोध की असल वजह क्या है तो इसे ऐसे समझिए. दरअसल रेलवे के लिए भर्ती करने वाली संस्था रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड जिसे शॉर्ट में आरआरबी कहते हैं उसने साल 2019 में एनटीपीसी के 35 हजार पदों के लिए वैकेंसी(NTPC Vacancy) निकाली थी. सितंबर 2021 में इसके लिए परीक्षा हुई और अब 14-15 जनवरी को इसका रिजल्ट(RRB-NTPC Result 2022) आया.

railway

Image Courtesy: Google.om

छात्रों का आरोप है कि एक ही पदों के लिए कई उम्मीदवारों का चयन किया गया है, 20 गुणा की जगह 11 गुणा रिजल्ट ही हुआ है. ऐसे में जब एक ही छात्र का कई पदों पर चयन होगा तो वह एक ही पर ज्वाइन कर पाएगा, ऐसे में कई सीटें खाली रह जाएंगी. इस बात को लेकर छात्रों ने लगातार कई दिनों तक विरोध प्रदर्शन किया और अब रेलवे ने परीक्षाएं रद्द करने का फैसला ले लिया है.     

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment