Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Sunday / December 5.
Homeन्यूजआर्यन केस से हुई वानखेड़े की छुट्टी तो अब नवाब मलिक बोले- उगाही के लिए किया था किडनैप

आर्यन केस से हुई वानखेड़े की छुट्टी तो अब नवाब मलिक बोले- उगाही के लिए किया था किडनैप

Sameer Wankhede
Share Now

एनसीबी मुंबई के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) पर महाराष्ट्र सरकार  में मंत्री नवाब मलिक लगातार हमलावर हैं. अब उन्होंने समीर वानखेड़े पर आर्यन को उगाही के लिए किडनैप करने के आरोप लगाए हैं, बता दें कि शुक्रवार को ही आर्यन खान केस (Aryan Khan Case) समेत 6 केस की जांच अब समीर वानखेड़े के अलावा एनसीबी दिल्ली (NCB Delhi) जोन को सौंप दी गई है.

नवाब मलिक ने लगाए किडनैपिंग और उगाही के आरोप 

नवाब मलिक (Nawab Malik) ने ट्वीट कर लिखा है कि समीर दाऊद वानखेड़े ने आर्यन खान को किडनैप कर फिरौती मांगी थी. इस मामले की जांच के लिए केन्द्र और राज्य ने अलग-अलग एसआईटी बनाई है. अब देखना होगा कि कौन इस काले कारनामे की असलियत सामने लाता है और प्राइवेट आर्मी (Private Army) और वानखेड़े को बेनकाब करता है.

आर्यन खान केस से वानखेड़े की छुट्टी 

दरअसल शुक्रवार को ये ख़बर सामने आई कि एनसीबी ने समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) को आर्यन खान केस की जांच से हटा दिया है. अब इस मामले की जांच ओडिशा कैडर के आईपीएस अधिकारी संजय सिंह के नेतृत्व में एनसीबी की सेंट्रल टीम करेगी. इस जानकारी के सामने आने के बाद नवाब मलिक ने कहा कि ये तो बस शुरुआत है. मलिक ने आगे ये भी कहा कि अभी तो सिर्फ 5 मामलों की जांच से इन्हें हटाया गया है, बल्कि कुल 26 मामलों की जांच की जरूरत है.

ये भी पढ़ें: नवाब मलिक ने जारी किया निकाहनामा तो समीर वानखेड़े की पत्नी बोलीं- हुआ था निकाह लेकिन…

जांच से हटाए जाने पर बोले वानखेड़े 

वहीं समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) ने कहा कि मुझे मामले की जांच बर्खास्त नहीं किया गया बल्कि मेरी याचिका अदालत में लंबित थी, जिसमें मैंने मांग की थी कि इस मामले की जांच केन्द्रीय एजेंसी से करवाई जाए. इसलिए अब इसकी जांच दिल्ली एनसीबी की एसआईटी (NCB SIT) की ओर से की जाएगी, यह मुंबई और दिल्ली की एसआईटी टीम के बीच समन्वय वाली बात है.

एनसीबी की ओर से जारी किया गया है आदेश 

हालांकि इन आरोप-प्रत्यारोप के बीच जानकारी की बात ये है कि समीर वानखेड़े या किसी भी अधिकारी को जांच से हटाया नहीं गया है. एनसीबी की ओर से जारी नोटिफिकेशन में साफ लिखा है कि एनसीबी मुख्यालय के अधिकारियों का विशेष दल बनाया गया है, जो एनसीबी मुंबई जोनल यूनिट से कुल 6 मामले लेगा और उसकी जांच करेगा. किसी भी अधिकारी को उनकी मौजूदा भूमिका से हटाया नहीं गया है, जरूरत के हिसाब से वह जांच में अपनी भूमिका निभाएंगे. मतलब जांच से हटाने की बात एनसीबी ने अपने ऑर्डर में स्पष्ट की है, लेकिन इतना जरूर है कि समीर वानखेड़े से केस वापस ले लिए गए हैं.  

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment