Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Wednesday / December 1.
Homeन्यूजयूपी के नेता संजय निषाद का विवादित बयान, कहा- राजा दशरथ के पुत्र नहीं थे श्रीराम

यूपी के नेता संजय निषाद का विवादित बयान, कहा- राजा दशरथ के पुत्र नहीं थे श्रीराम

Sanjay Nishad Controversial Remarks
Share Now

Sanjay Nishad Controversial Remarks: यूपी में जैसे-जैसे चुनाव के दिन नजदीक आ रहे है वैसे-वैसे नेताओं के विवादित बयान भी सामने आ रहे है। पहले सपा प्रमुख अखिलेश यादव के जिन्ना वाले बयान पर भाजपा जमकर पलटवार कर रही है। अब यूपी में भाजपा की सहयोगी पार्टी के नेता ने विवादित बयान देकर सूबे में हलचल पैदा कर दी है। निषाद पार्टी के अध्यक्ष संजय निषाद ने भगवान राम पर एक विवादित बयान (Sanjay Nishad Controversial Remarks) दिया है। संजय निषाद ने कहा कि ”राम का जन्म एक निषाद परिवार में हुआ था।” अब संजय निषाद के इस बिगड़े बोल के बाद दूसरी पार्टी के नेता उन पर निशाना साध रहे है।

भगवान राम पर संजय निषाद का विवादित बयान:

संगम नगरी प्रयागराज की धरती पर संजय निषाद ने विवादित बयान दिया है। संजय निषाद का कहना है कि भगवान श्रीराम का जन्म निषाद परिवार में हुआ था और वो राजा दशरथ के पुत्र भी नहीं थे, बल्कि पुत्र प्राप्ति के लिए यज्ञ कराने वाले श्रृंगी ऋषि के बेटे थे। संजय निषाद के द्वारा भगवान राम पर दिए गए इस बयान पर जमकर बहस हो रही है। इस बयान पर असदुद्दीन ओवैसी ने संजय निषाद पर जमकर निशाना साधा है। असदुद्दीन ओवैसी ने संजय निषाद के इस बयान पर तंज कसते हुए इसका जवाब संघ प्रमुख मोहन भागवत से मांग लिया।

भाजपा के लिए मुश्किल बने संजय निषाद:

कुछ ही समय पहले निषाद पार्टी ने यूपी चुनाव के लिए भाजपा से गठबंधन किया था। लेकिन उसके बाद उनके टिकट बंटवारे पर कोई चर्चा नहीं हुई है। संजय निषाद ने कहा कि ”उनके समुदाय के लोग तब तक बीजेपी को वोट नहीं देंगे जब तक कि निषाद समाज के लिए आरक्षण की मांग पूरी नहीं हो जाती। संजय निषाद ने बीजेपी सरकार से अपना वादा पूरा करने को कहा।

निषाद वोट निभाते है काफी महत्वपूर्ण भूमिका:

देश में उत्तरप्रदेश ही एक ऐसा राज्य है जहां जातिगत समीकरण वाली राजनीति सबसे ज्यादा देखने को मिलती है। ऐसे में यूपी में नदी किनारे वाले स्थानों पर निषाद वोट बहुतायत में है। प्रदेश की करीब 50 सीटों पर हार-जीत का समीकरण निषाद वोट तय करते है। ऐसे में अगर निषाद वोट भाजपा से अलग हो जाते है तो योगी सरकार की चिंता बढ़ सकती है।

ये भी पढ़ें: धनतेरस के दिन जरूर खरीदें ये वस्तुएं, व्यापार में होगा चमत्कारिक लाभ

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment