Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Saturday / October 16.
HomeUnknown फैक्ट्सयहां ऑफिस में सो जाओ तो बॉस भड़कते नहीं बल्कि खुश होते हैं! जानें, आखिर क्यों है ऐसा

यहां ऑफिस में सो जाओ तो बॉस भड़कते नहीं बल्कि खुश होते हैं! जानें, आखिर क्यों है ऐसा

Sleeping On Duty
Share Now

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में यूं तो हर कोई नौकरी कर रहा है, कोई सरकारी नौकरी (Government Job) में है तो कोई प्राइवेट नौकरी (Private Job) कर अपनी रोजी-रोटी चला रहा है और जीवन में तरक्की कर रहा है. खासकर अपने हिंदुस्तान में सरकारी नौकरी को काफी आराम की नौकरी माना जाता है. अभी भी लोगों के दिमाग में ऐसी भावनाएं हैं कि एक बार नौकरी लग गई तो फिर दिक्कत नहीं है.

हालांकि अब ऐसा नहीं है बल्कि सरकारी सेक्टर में भी अब लोग पहले की तुलना में ज्यादा काम करने लगे हैं, लेकिन एक बात बड़ी मजेदार है कि सरकारी नौकरी से भी ज्यादा आराम एक मुल्क में है, वह देश है जापान (Japan).

Sleeping On Duty

Image Courtesy: Google.com

जापान में ड्यूटी के दौरान सो जाते हैं लोग

वही जापान जिसके दो शहरों पर द्वितीय विश्व युद्ध (Second World War) के दौरान अमेरिका ने परमाणु बम गिरा दिए थे, जहां के लोग आज भी उसका दंश झेल रहे है. जहां की सुरक्षा की जिम्मेदारी आज भी अमेरिका संभालता है. उसी जापान में ड्यूटी के दौरान सोना (Sleeping On Duty) कोई गुनाह नहीं है, अगर आप ड्यूटी के दौरान सो जाते हैं तो आपको नौकरी से निकाले जाने का खतरा या फिर डांट सुनने की बात तो छोड़िए, बल्कि बॉस आपके खुश होंगे.

Sleeping On Duty

Image Courtesy: Google.com

इस वजह से ड्यूटी के दौरान सोना गलत नहीं

अब सवाल ये है कि आखिर इस मुल्क में ऐसा क्यों है, इसकी वजह है जापान का वर्क कल्चर (Japan Work Culture). कहा जाता है कि द्वितीय विश्व युद्ध के बाद जापान के हर एक आदमी ने अपने देश को विकास के पथ पर अग्रसर करने के लिए इतनी कड़ी मेहनत की कि वह ऑफिस में ही (Sleeping On Duty) सो जाते थे. हालांकि लोग पूरी ईमानदारी से अपना काम करते थे. इसी वजह से बाद में भी ये परंपरा कायम रही और ये माना जाने लगा कि ड्यूटी के दौरान अगर कोई आदमी सो रहा है तो उसने ज्यादा काम कर लिया है, उस पर वर्क लोड ज्यादा है इसलिए उसकी आंखें बंद हो गईं होंगी, उसे नींद आ गई होगी. इसे इनेमुरी (Inemuri) कहते हैं.

पावर नैप है जरूरी

मनोविज्ञान की भाषा में अगर कहें तो इसे सोने की बजाय पावर नैप (Power Nap) कह सकते हैं, जो काम या पढ़ाई के बीच में इसलिए जरूरी हो जाता है ताकि दिमाग स्वस्थ महसूस करे, नई ताजगी महसूस हो और पहले की तुलना में ज्यादा तेज गति से काम हो सके. कहा जाता है कि 10-15 मिनट की पावर नैप (Power Nap) के बाद व्यक्ति फ्रेश महसूस करता है उसका तनाव कम होता है.

Sleeping On Duty

Image Courtesy: Google.com

ये भी पढ़ें: एक ऐसा मुल्क जहां खूबसूरत महिलाएं चेहरे पर टैटू बनवाकर बदसूरत बन जाती हैं, वजह हैरान कर देने वाली है

नियम ला सकती है सरकार

हालांकि अब ख़बर ये भी है कि जापान की सरकार इस पर रोक लगाने का नियम ला सकती है. जिसके बाद ऐसा हो जाएगा कि ऑफिस में लोग ड्यूटी आवर के दौरान सो नहीं पाएंगे. मतलब ये कि काम का काम और आराम का आराम नए नियम के आने के बाद नहीं हो पाएगा.  

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment