Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Wednesday / October 5.
Homeनेचर एंड वाइल्ड लाइफजानलेवा खेती: पालकर मार दिए जाते हैं हजारों सांप!

जानलेवा खेती: पालकर मार दिए जाते हैं हजारों सांप!

SNAKE FARMING
Share Now

विश्व के अनेक देशों में किसान फसल बोते हैं. कृषि में किसान गेहू, चावल समेत कई फसलें उगाते हैं. लेकिन कुछ देश हैं जो फसल की जगह सांप की खेती करते हैं! चीन, वियतनाम जैसे देशों में किसान कुछ अलग करते हैं. जो कृषि उत्पादों की बजाए सांप की खेती करते हैं. जिसे (SNAKE FARMING) स्नेक फार्मिंग के नाम से जाना जाता है. स्नेक फार्मिंग में अमेरिका, थाईलैंड, चाईना, ब्राजील, फ्रांस, जर्मनी, कोस्टा रिका और रशिया जैसे देश जुड़े हैं. 

क्या है स्नेक फार्मिंग?

स्नेक फार्मिंग (SNAKE FARMING) जितना फायदे का बिजनेस लगता हैं उतना ही खतरनाक भी है. इसमें इंसान सांपों की अलग-अलग प्रजातियों को पालते हैं. जिसमें जहरीले और बिना जहर वाले सांप शामिल होते हैं. सांपों को एक जगह पर ही रखा जाता हैं. छोटी जगह में हजारों सांप एक साथ रखे जाते हैं. 

यहाँ भी पढ़ें :मछली जो बन सकती है आपकी मौत!

अब बड़ा सवाल ये है कि एक ही जगह पर हजारों सांपों को क्यों रखा जाता है? इतने सांपों से क्या फायदा होता है? सांपों को अलग-अलग उपयोग में लाया जाता है. जैसे कि सांपों के जहर को निकाल कर बेचा जाता है. सांप का जहर दुनिया में सबसे महंगी चीजों में से एक है. जिसकी डिमांड दुनिया के हर देश में है. 

SNAKE FARMING

फार्मों के जरिये ही सांप के दंश की दवाएं बनाई जाती हैं. स्नेक फार्मर्स से फार्मास्युटिकल कंपनी जहर खरीदती हैं और इस जहर का इस्तेमाल उसी जहर की दवाई बनाई जाती है. दरअसल सांप के जहर से ही उस जहर से बचने की दवाई बनाई जाती है.

स्नेक फार्मिंग (SNAKE FARMING) में सांपों को बड़ा कर उनके मांस को ऊंचे दाम पर बेचा जाता है. चीन और वियतनाम जैसे देशों में सांप के मांस की बहुत डिमांड है. यहां सांप के मांस की डिश बहुत ज्यादा पैसों में परोसी जाती है.

SNAKE FARMING

यहाँ भी पढ़ें :एशियाई और अफ्रीकी शेर में कौन भारी!

No comments

leave a comment