Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Saturday / January 22.
Homeस्पोर्ट्सस्टंप की गिल्लियों की राख के लिए आमने-सामने होती इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया, जानिए पूरी कहानी

स्टंप की गिल्लियों की राख के लिए आमने-सामने होती इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया, जानिए पूरी कहानी

Story of Ashes Series
Share Now

Story of Ashes Series: क्रिकेट की सबसे पुरानी और ऐतिहासिक टेस्ट श्रृंखला एशेज सीरीज को माना जाता है। इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच एशेज सीरीज पिछले 100 साल से ज्यादा समय से खेली जा रही है। एशेज का हिंदी में मतलब ‘राख’ होता है। इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के स्टंप्स की गिल्लियों के राख के लिए एशेज ट्रॉफी (Story of Ashes Series) का आयोजन होता है। इसकी मेजबानी एक बार ऑस्ट्रेलिया करता है तो एक बार इंग्लैंड। इसकी शुरुआत 1882 से एक अजीब घटनाक्रम के बाद हुई थी। इससे जुड़ी एक बेहद ही रोचक कहानी है जो हम आज आपको बताएंगे…

एशेज ट्रॉफी का कुछ ऐसा रहा है इतिहास…

एक समय था जब ज्यादातर मैच ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच खेले जाते थे। इंग्लैंड अपनी जमीं पर ऑस्ट्रेलिया से कभी नहीं हारी थी, लेकिन 1882 में ओवल के मैदान पर जो हुआ वो इतिहास बन गया। जी हां, 1882 में ओवल के मैदान पर ऑस्ट्रलिया और इंग्लैंड के बीच ऐतिहासिक टेस्ट मैच खेला गया था। उस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को पहली बार उसी की सरजमीं पर हरा दिया। ये हार इंग्लैंड मीडिया में चर्चा का विषय बन गई थी। वहां के एक एक अखबार ने एक ऐसी खबर छापी की इस सीरीज का नामकरण हो गया। स्पोर्टिंग टाइम्स नामक इंग्लिश अखबार ने फ्रंट पेज पर क्रिकेट का शोक संदेश छाप दिया और लिखा, “इंग्लिश क्रिकेट की मौत हो चुकी है। इसकी तारीख है 29 अगस्त 1882, ओवल और अब इसके अंतिम संस्कार के बाद इसकी राख (एशेज) ऑस्ट्रेलिया ले जाएगी।”

अखबार में छपा था क्रिकेट का शोक संदेश:

उसके बाद जब वापस अगले साल इंग्लैंड टीम का ऑस्ट्रेलिया दौरा हुआ तो अखबार फिर हैडलाइन लिखी ”राख को वापस लाने की कोशिश!..उस दिन के बाद हमेशा से इस सीरीज का नामकरण राख यानी एशेज रखा गया। उसके बाद इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को उसके घर में जाकर हराया। जब सीरीज जीतकर इंग्लैंड वापस आ रही थी तो वो स्टंप्स की गिल्लियों के राख को एक बर्तन में रखकर लाए। उसके बाद ये सीरीज दोनों देशों के लिए महत्वपूर्ण सीरीज बन गई। आज भी एक छोटे से बर्तन में वो राख रखी हुई है।

अब तक कुल 71 खेली गई है एशेज सीरीज:

अगर बात करें एशेज सीरीज के आंकड़ों के बारें में तो अभी तक दोनों देशों के बीच एशेज की 71 बार जंग हुई है। दोनों टीमें इसमें बराबरी पर रहती है। कभी ऑस्ट्रेलिया जीत जाती है तो कभी इंग्लैंड। ऑस्ट्रेलिया ने इस दौरान 33 बार एशेज का खिताब जीता है तो वहीं इंग्लैंड ने 32 बार इस ऐतिहासिक सीरीज को अपने नाम किया है। वहीं 6 बार दोनों टीमों के बीच सीरीज बराबरी पर रही है।

इसे भी पढ़े: रविंद्र जडेजा के जन्मदिन पर जानिए उनके संघर्ष की कहानी, कैसे बने दुनिया के स्टार क्रिकेटर

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment