Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Friday / November 26.
Homeन्यूजसूडान: वो देश जहां जनता ने अपनी ही आर्मी के घुटने टिकवा दिए, जानिए पूरा घटनाक्रम

सूडान: वो देश जहां जनता ने अपनी ही आर्मी के घुटने टिकवा दिए, जानिए पूरा घटनाक्रम

Sudan PM Reinstated
Share Now

Sudan PM Reinstated: करीब एक महीने पहले सूडान में सेना ने तख्तापलट कर दिया था। जिसके बाद पूरी दुनिया की नज़र सूडान पर बनी हुई थी। लेकिन सूडान सेना को वहां की जनता ने सबक सिखाया है। करीब एक महीने तक जनता सड़कों पर उतरी रही और अपने देश के प्रधानमंत्री अबदल्ला हमदोक को फिर से बहाल (Sudan PM Reinstated) करवाकर ही दम लिया। जनरल अब्देल फतह अल-बुरहान ने एक महीने से चल रहे विरोध-प्रदर्शनों के आगे झुकते हुए पीएम अबदल्ला हमदोक बहाल कर दिया है। सेना और सरकार के बीच एक राजनीतिक समझौते के तहत प्रधानमंत्री अबदल्ला हमदोक को बहाल कर दिया गया है। बताया जा रहा है इस समझौते के तहत सूडान सेना को भी अपना पूरा अधिकार मिलेगा। 

सूडान सेना ने पीएम को कर दिया नजरबंद:

बता दें पिछले 25 अक्टूबर से प्रधानमंत्री अबदल्ला हमदोक को सूडान की सेना ने नजरबंद करके रखा था। जिसके बाद सेना के खिलाफ सूडान की जनता सड़कों पर उतर आई। जगह-जगह धरने-प्रदर्शन किए गए। कई जगह हिंसक घटनाएं भी देखने को मिली। एक रिपोर्ट के मुताबिक सूडान में लोगों ने सेना के खिलाफ जमर नारेबाजी की थी। प्रदर्शनकारियों पर सेना ने आंसू गैस के गोले दागे थे। पिछले एक महीने में अब तक करीब 100 लोगों की मौत की बात सामने आ रही है।

दुनियाभर में हुई सूडान सेना की आलोचना:

सूडान सेना ने अपनी दमनकारी नीति के तहत अपने ही लोगों को निशाना बनाना शुरू कर दिया था। जनरल अब्देल फतह अल-बुरहान के नापाक मंसूबे पुरे नहीं हो पाए। सेना ने विरोध-प्रदर्शन कर रही सूडान की जनता को कुचलने का पूरा प्रयास किया। लेकिन उनको विश्वास नहीं था कि जनता सड़कों पर इस तरह डटी रहेगी। तख्तापलट को लेकर दुनियाभर में सूडान की सेना की आलोचना हो रही थी। आखिरकार करीब एक महीने बाद सेना को एक समझौते पर साइन करके प्रधानमंत्री को फिर से बहाल करना पड़ा।

सूडान सेना छह राजदूतों को कर दिया था बर्खास्त:

बता दें 25 अक्टूबर को सेना ने प्रधानमंत्री अबदल्ला हमदोक को नज़रबंद कर दिया था। इसके बाद सूडान की सत्ता सेना के हाथों में आ गई थी। लेकिन जनता द्वारा विरोध-प्रदर्शन के बीच छह देशों के राजदूतों ने सैन्य अधिग्रहण को अपनी स्वीकृति प्रदान नहीं की। जिसको लेकर सत्तारूढ़ सेना ने छह राजदूतों को बर्खास्त कर दिया है। संयुक्त राज्य अमेरिका, यूरोपीय संघ, चीन, कतर, फ्रांस में सूडान के राजदूत और स्विस शहर जिनेवा में देश के मिशन के प्रमुख शामिल थे।

इसे भी पढ़े: राजस्थान मंत्रिमंडल विस्तार आज, 11 कैबिनेट और 4 राज्यमंत्री लेंगे शपथ, देखें पूरी लिस्ट

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment