Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Sunday / July 3.
Homeनेचर एंड वाइल्ड लाइफक्या है सूरजबारी पुल, जानें इससे जुड़े क्रीक की विशेषताएं

क्या है सूरजबारी पुल, जानें इससे जुड़े क्रीक की विशेषताएं

Surajbari Bridge: What is Surajbari Bridge, know the features of the creek associated with it, what is rann sarovar project,
Share Now

Surajbari Bridge: सूरज बारी पुल कच्छ और सौराष्ट्र को जोड़ने वाला एकमात्र पुल है. माना जाता है कि ये पुल सौ साल पुराना है. क्षतिग्रस्त हालत में पड़े इस पुल का अब कोई इस्तेमाल नहीं है ऐसे में जयसुख भाई पटेल का मानना है कि अगर इस पुल की जगह पर डैम बना दिया जाए तो लिटिल रण ऑफ कच्छ में आने वाले खारे पानी को रोका जा सकता है.


सूरजबारी पुल (Surajbari Bridge) को लेकर जयसुख भाई पटेल का तर्क है कि 50 साल पुराने पुल को डैम में बदलकर खारे पानी को रोका जा सकता है. साथ ही जय सुख भाई पटेल ने इंटरव्यू के दौरान बताया कि 110 नदियां यहां मिट्टी साथ लेकर आती हैं. जिसे हर साल 400 से 500 करोड़ की लागत से कंडला बंदरगाह से निकाला जाता है. उन्होंने बताया कि रण सरोवर बनने से नदियों के जरिए आने वाली मिट्टी इसी जगह पर बैठ जाएगी.

ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा कि रण सरोवर बनेगा या नहीं. लेकिन मानवता की दृष्टि से ये प्रोजेक्ट गुजरात के कच्छ और सौराष्ट्र के लोगों के लिए जीवनदान साबित हो सकता है. साथ ही अगरिया समुदाय के लिए भी रण सरोवर किसी वरदान से कम नहीं है. एक बंजर भूमि हरी-भरी जमीन बन जाए तो इससे विश्व फलक पर भारत का नाम एक बार फिर गौरव से लिया जाएगा.

इसे भी पढ़े: Rann Sarovar प्रोजेक्ट बनने के बाद अगरिया मजदूरों की स्थिति में कैसे होगा सुधार, जानें Jay sukh Bhai Patel से  

No comments

leave a comment