Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Saturday / June 25.
Homeन्यूजस्वामी प्रसाद मौर्य के इस्तीफे से भाजपा में खलबली, यूपी की राजनीति में बड़ा दबदबा रखते है मौर्य

स्वामी प्रसाद मौर्य के इस्तीफे से भाजपा में खलबली, यूपी की राजनीति में बड़ा दबदबा रखते है मौर्य

Swami Prasad Maurya Resignation
Share Now

Swami Prasad Maurya Resignation: यूपी की सियासत में मंगलवार को हुए बड़े घटनाक्रम के बाद भाजपा डैमेज कंट्रोल में लगी हुई है। योगी सरकार के मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने अचानक इस्तीफा (Swami Prasad Maurya Resignation) देकर यूपी से दिल्ली तक खलबली मचा दी। अब कयास लगाए जा रहे है कि स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ कई और बड़े नेता पार्टी का दामन साथ छोड़ सकते है। स्वामी प्रसाद मौर्य के इस्तीफे के बाद आनन-फानन में भाजपा नेतृत्व सक्रिय हुआ और डैमेज कंट्रोल की कवायद तेज की गई है। बता दें स्वामी प्रसाद मौर्य यूपी की राजनीति में अपना बड़ा दबदबा रखते है।

स्वामी प्रसाद मौर्य का राजनीतिक सफर:

2 जनवरी 1954 को प्रतापगढ़ में जन्मे स्वामी प्रसाद मौर्य ने इलाहाबाद यूनिवर्सिटी से लॉ में स्नातक और MA की डिग्री की हासिल की है। अब तक स्वामी प्रसाद मौर्य चार बार विधायक चुने गए और इसके साथ ही वो यूपी विधानसभा में तीन बार नेता प्रतिपक्ष भी चुने गए थे। 1980 से स्वामी प्रसाद मौर्य सक्रिय राजनीति में हिस्सा रखते है। यूपी में उनका राजनीतिक दबदबा पिछले 20 साल से कायम है। वो पहले बसपा में मायावती के सबसे करीबी नेताओं में शुमार थे। लेकिन 2017 के चुनाव से पहले उन्होंने भाजपा का दामन थाम लिया था।

शायद टिकट वितरण को लेकर नाराजगी:

अगर भाजपा का साथ छोड़कर स्वामी प्रसाद मौर्य अखिलेश यादव की साइकिल पर सवार हो जाएंगे तो यूपी चुनाव की हवा ही एक दम से बदल सकती है। क्योंकि मौर्य के साथ करीब 10 बड़े और नेता बताए जा रहे है जो किसी भी वक्त पार्टी छोड़ सकते है। मंगलवार सुबह ही प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ और प्रदेश अध्यक्ष सहित यूपी के तमाम बड़े नेता दिल्ली में टिकट बंटवारे के लिए भाजपा शीर्ष नेतृत्व के साथ मीटिंग करने गए थे और पीछे ये इतना बड़ा सियासी घटनाक्रम हो गया। ऐसा भी माना जा रहा हाउ कि भाजपा के टिकट वितरण से खफा होकर उन्होंने ये कदम उठाया है।

केशव प्रसाद मौर्या को दी मनाने की जिम्‍मेदारी:

खबर है कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने स्वामी प्रसाद मौर्या और अन्‍य विधायकों को मनाने की जिम्‍मेदारी केशव प्रसाद मौर्या को दी है। इस पूरे घटनाक्रम के बाद उन्होंने ट्वीट किया, ‘आदरणीय स्वामी प्रसाद मौर्य जी ने किन कारणों से इस्तीफा दिया है मैं नहीं जानता हूं उनसे अपील है कि बैठकर बात करें जल्दबाजी में लिये हुये फैसले अक्सर गलत साबित होते हैं।’

ये भी पढ़ें: यूपी के मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य का योगी कैबिनेट से इस्तीफा, साइकिल पर सवार!

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment