Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / May 17.
Homeन्यूजअफगानिस्तान में मची अफरातफरी, तालिबानियों के कब्जे में काबुल से सटा लोगार प्रांत

अफगानिस्तान में मची अफरातफरी, तालिबानियों के कब्जे में काबुल से सटा लोगार प्रांत

taliban
Share Now

अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे वाले क्षेत्रों के बढ़ने से अफरातफरी मच गई है. एक के बाद एक नए शहरों पर तालिबान (Taliban) का कब्जा हो रहा है. हेरात, कंधार और हेलमंद के बाद अब तालिबान ने अफगान राजधानी काबुल के दक्षिण में स्थित लोगार प्रांत पर कब्जा कर लिया है. जानकारी के मुताबिक शनिवार को काबुल प्रांत के एक जिले तक तालिबानी पहुंच गए. तालिबान ने देश के दक्षिणी हिस्से पर कब्जा कर लिया है और धीरे-धीरे काबुल की ओर बढ़ रहा है.

 

गौरतलब है कि अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी के तीन सप्ताह से भी कम समय के बाद, तालिबान ने उत्तरी, पश्चिमी और दक्षिणी अफगानिस्तान के अधिकांश हिस्से पर कब्जा कर लिया है. इतना ही नहीं तालिबान ने उत्तरी अफगानिस्तान के सबसे बड़े शहर मजार-ए-शरीफ पर भी हमले शुरू कर दिए हैं. इससे पहले शुक्रवार को तालिबान ने देश के दूसरे और तीसरे सबसे बड़े शहरों, पश्चिम में हेरात और दक्षिण में कंधार पर कब्जा कर लिया और हेलमंद प्रांत की राजधानी पर कब्जा कर लिया था.

 

 

आधी से ज्यादा पूंजी पर कब्जा

लगभग दो दशकों के युद्ध के दौरान हेलमंद में कई सैनिक मारे गए. दक्षिणी क्षेत्र पर कब्जा करने का मतलब है कि तालिबान ने 34 प्रांतों में आधी से अधिक राजधानी पर कब्जा कर लिया है. संयुक्त राज्य अमेरिका कुछ हफ्तों में अफगानिस्तान से अपने सैनिकों को वापस लेने वाला है. तालिबान ने देश के दो तिहाई हिस्से पर कब्जा कर लिया है.

 

काबुल पर तालिबान की नजर

काबुल के दक्षिण में स्थित लोगार प्रांत पर कब्जा करने के बाद अब तालिबान की नजर काबुल पर है. यह शहर काबुल से लगभग 80 किलोमीटर दक्षिण में स्थित है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, काबुल 30 दिनों में तालिबान के दबाव में आ सकता है और इसी तरह तालिबान का आतंक जारी रहा तो तालिबान कुछ समय में देश पर कब्जा कर सकता है. यदि तालिबान इसी तेजी से आगे बढ़ता रहा तो इसमें कोई संदेह नहीं है कि आने वाले दिनों में अफगान सरकार पीछे हट जाएगी और केवल कुछ अन्य शहरों की रक्षा करने के लिए मजबूर होगी.

 

तालिबान ने इससे पहले अफगानिस्तान में सर ए ब्रिज पर कब्जा कर लिया था. जहां से हाल ही में अमेरिकी सेना लौटी थी. इसके बाद तालिबान ने अपने हमले तेज कर दिए. इसकी कुल पांच प्रांतीय राजधानियां भी हैं, जो वर्तमान में तालिबान के नियंत्रण में हैं. कुंदुज़, सर ए पॉल और तालोकान शहर तालिबान के नियंत्रण में है. इन सभी शहरों पर तालिबान ने सिर्फ तीन दिनों में कब्जा कर लिया था. इसके अलावा पिछले एक हफ्ते में ही तालिबान ने कई अन्य शहरों पर कब्जा कर लिया है.

taliban

Image Courtesy: Prabhat Khabar

 

तालिबानियों का बढ़ता आतंक

उल्लेखनीय है कि अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी के बाद तालिबान का आतंक फिर से बढ़ गया है. तालिबान ने सारी हदें पार कर दी हैं. अफगानिस्तान में तालिबान के एक आतंकवादी ने एक युवती की इसलिए हत्या कर दी क्योंकि उसने छोटे कपड़े पहने थे और उसके साथ कोई युवक नहीं था. रिपोर्ट्स के मुताबिक, घटना उत्तरी बल्ख प्रांत के समर कंडियन के एक गांव में हुई, जिसे तालिबान ने अपने कब्जे में ले लिया है. बल्ख पुलिस प्रवक्ता आदिल शाह ने कहा कि लड़की का नाम नाजनीन था जिसकी उम्र 21 साल थी.

ये भी पढ़ें: अमेरिकी सेना के हटते ही तालिबान का अफगानिस्तान पर आतंक!

तालिबान ने आरोपों से किया इनकार

एक पुलिस प्रवक्ता ने आगे कहा कि लड़की अपने घर से बल्ख की राजधानी मजार-ए-शरीफ जा रही थी. वह अपने घर से कार में बैठी थी तभी आतंकी ने गोली मारकर उसकी हत्या कर दी. पुलिस ने कहा कि लड़की ने बुर्का पहना हुआ था, लेकिन तालिबान ने सभी आरोपों से इनकार किया है.

 

तालिबान की बढ़ती मौजूदगी ने स्थानीय लोगों में डर का माहौल पैदा कर दिया है. स्थानीय लोग महिलाओं और लड़कियों को आतंकवादियों से बचाने के लिए काबुल में सुरक्षित भेज रहे हैं. आतंकियों ने शुक्रवार को काबुल के दारुल अमन रोड पर अफगान सरकार के मीडिया और सूचना केंद्र के प्रमुख दावा खान मेनपाल की हत्या कर दी. तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने इसकी जिम्मेदारी लेते हुए ट्विटर पर आतंकियों की तारीफ की थी. तालिबान ने कथित तौर पर पिछले सप्ताह में 35 से अधिक लोगों को मार डाला है.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

 

No comments

leave a comment