Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / November 30.
Homeऑटो एंड गैजेट्सAirtel-Vi यूजर्स को बड़ा झटका, प्रीपेड प्लान हुए 20-25 प्रतिशत महंगे

Airtel-Vi यूजर्स को बड़ा झटका, प्रीपेड प्लान हुए 20-25 प्रतिशत महंगे

Airtel-Vi
Share Now

भारत में महंगाई का दौर बढ़ता ही जा रहा है. जहां इतने वक्त से सरकार ने पेट्रोल, डीजल के भाव बढ़ाने के बाद थोड़ी राहत दी ही थी, वहीं दूसरी ओर अब टेलीकॉम कंपनीयों के कॉल रेट और प्रीपेड टैरिफ प्लांस में भाव बढ़ने की खबर आई है. एयरटेल के बाद अब वोडाफोन आइडिया ने भी प्रीपेड प्लान के भाव 20-25 प्रतिशत बढ़ा दिए हैं.

आपको बता दें टेलीकॉम कंपनी भारती एयरटेल (Bharti Airtel) ने 22 नवंबर को यह घोषित किया कि कंपनी ने प्रीपेड प्लान्स पर टैरिफ दरों में 25 फीसदी तक इजाफा किया है. यह नए टैरिफ दर 26 नवंबर से लागू होंगे. कंपनी ने कहा कि भारती एयरटेल ने हमेशा यह सुनिश्चित किया है कि मोबाइल एवरेज रेवेन्यू प्रति यूजर (ARPU) 200 रुपये होना चाहिए. अब यह 300 पर होना चाहिए ताकि कैपटिल पर उचित रिटर्न प्रदान किया जा सके जो वित्तीय रूप से स्वस्थ व्यापार मॉडल की अनुमति देता है. अब बढ़े हुए दर कुछ इस प्रकार है:

Airtel-Vi

COURTESY: GOOGLE.COM

इसके बाद देश की तीसरी सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) ने 23 नवंबर को यह घोषित किया कि उन्होंने भी अपने टैरिफ प्लान के भाव बढ़ा दिये हैं. इसके बाद वोडाफोन आइडिया के 27 करोड़ यूजर को बड़ा झटका लगा है. बता दें कि वोडाफोन आइडिया टैरिफ की नई दरें 25 नवंबर से ही लागू करने वाला है. वीआई द्वारा जारी किए गए इस बयान में उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि कंपनी के प्लान्स से एवरेज रेवेन्यू प्रति यूजर (ARPU) में सुधार देखने को मिलेगा. साथ ही टेलिकॉम सेक्टर को भी फाइनेंशियल संकट से बाहर निकलने में मदद मिलेगी. अब वोडाफोन आइडिया के बढ़े हुए दर कुछ इस प्रकार है:

Airtel-Vi

COURTESY: GOOGLE.COM

भारती एयरटेल उद्योग के लिए टैरिफ बढ़ाना क्यों महत्वपूर्ण है?

तीन निजी दूरसंचार कंपनियों में से दो, वीआई और भारती एयरटेल (Airtel-Vi), सुप्रीम कोर्ट के एक फैसले के बोझ तले दबी हैं, जिसमें उन्हें एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू (AGR) बकाया के रूप में क्रमशः 58,250 करोड़ रुपये और 43,890 रुपये से अधिक का भुगतान करने के लिए कहा गया है. हालांकि दोनों कंपनियों ने स्पेक्ट्रम और एजीआर बकाया पर चार साल की मोहलत का विकल्प चुना है, लेकिन स्थगन समाप्त होने के बाद उन्हें भुगतान के लिए धन के साथ आना होगा. आपको बता दें कि इसके बाद अब खबर यह भी है कि टेलिकॉम कंपनी जियो (Jio) भी अपने टैरिफ दर बढ़ा सकती है. 

ये भी पढ़ें: पति हो तो ऐसा! पत्नी के लिए बनवाया दूसरा Taj Mahal, MP में देखिए, बेपनाह मोहब्बत की अनोखी निशानी

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment