Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / May 17.
Homeनेचर एंड वाइल्ड लाइफजानिए बाघों के 13 जाने-अंजाने रहस्य!

जानिए बाघों के 13 जाने-अंजाने रहस्य!

TIGER
Share Now

बाघ (TIGER) जगत के सबसे अधिक खूबसूरत जीवों में से एक है  लेकिन दुःख है कि बाघ विश्व की सबसे ज्यादा खतरे में पड़ी हुई प्रजाति है.  हर एक व्यक्ति को बाघ को पसंद करता है लेकिन बहुत कम व्यक्ति बाघ के बारे में जानते है.

TIGER

IMAGE CREDIT-THE GUARDIAN

1.

बिल्ली कुल में से बाघ सबसे बड़ी प्रजाति है. शायद आप रॉयल बंगाल टाइगर को जानते होगें. जो 300 किलोग्राम तक के हो सकते है. जो 6 आदमियों के वजन के बराबर है.  (TIGER)बाघ आप पर उनके पंजे रख दे, तो भी आप तुरंत मर जाएंगे.

2.

बाघ (TIGER) का एक पंच इंसान को मार सकता है.  बाघ के शरीर को एक तरफ रख दिजीए. सिर्फ सामने का पंज़ा ही आपको मार सकता है. कहा जाता है बाघ का एक पंजा किसी व्यक्ति या जानवर को मारने के लिए काफी है.

यहाँ भी पढ़ें :जानिए कौन से सांप ने रेस्क्यूयर परेश पित्रोडा पर किया हमला

बाघ निशाचर प्राणी है. बाघ रात को शिकार करना पसंद करते है.रात को शिकार करना ईस लिए पसंद करते है की इंसानों से 6 गुना ज्यादा अच्छे से बाघ देख सकते है.

4.

बाघ के बच्चे जन्म से ही अंधे होते है. और आधे बच्चे ही जिंदा रहते है.पैदा हुए बच्चे कुछ भी नहीं देख सकते. बच्चे अपनी माँ की गंध का पीछा करते है. ज्यादातर बच्चे भूख और ठंड से मर जाते है. और मादा को पाने के लिए कुछ बच्चों को नर बाघ मार देते है.

5.

बाघों को पानी में तैरना और पानी में खेलना बहुत पसंद है. दूसरी बड़ी बिल्लियों से विपरीत बाघों को पानी में घंटो तक तैरना पसंद है. बाघ पानी में भी शिकार कर सकता है. बाघ एक दिन में 30 किलोमीटर तक तैर सकता है.

TIGER

IMAGE CREDIT- FORTUNE

6.

बाघ की धारिया बाघ को अलग पहचान देती है. सभी बिल्लियों की प्रजाति को अलग-अलग धारिया होती है. जो उसके बालों के साथ त्वचा तक होती है. हर एक बाघ को अलग धारिया होती है. जिससे बाघों की पहचान की जाती है. बाघों की धारिया यानी बाघों के फिंगरप्रिन्ट.

देखें यह वीडियो: FACTS OF TIGER



7.

प्रोजेक्ट टाईगर के अंतर्गत बाघ राष्ट्रीय प्राणी घोषित हुआ. 1972 में इंदिरा गांधी ने प्रोजेक्ट टाइगर लॉंच किया था तब से बाघ भारत का राष्ट्रीय प्राणी है. इससे पहले सिंह भारत का राष्ट्रीय प्राणी था.

8.

दुनिया में भारत ही एकमात्र देश है जहां सबसे अधिक बाघ है. भारत के बाघों को देखने के लिए दुनियाभर से करीब 2 लाख से ज्यादा लोग आते है.

9.

भारत में बाघ(TIGER) सबसे ज्यादा प्रवासन को बढावा देते है.भारत सरकार को बाघों की सफारी से सबसे ज्यादा आय होती है. जिससे नेशनल पार्क के आसपास रोज़गार को बढावा मिलता है.  

10.

महाराष्ट्र में बाघ की पूजा होती है. वाघोबा नाम का नृत्य करके महाराष्ट्र में बाघों की पूजा होती है. वाघ यानी बाघ. और बा यानी मान देना या पूजा करना.

TIGER

IMAGE CREDIT-LIVESCIENCE

11.

भारत के पर्यावरण को बचाने के लिए बाघ जरूरी है. भारत के इकोसिस्टम में बाघ सबसे बड़ा शिकारी प्राणी है. जो बाघ नही बचे तो भारतीय की इकोसिस्टम भी नहीं बचेगी.

यहाँ भी पढ़ें : आज़ाद भारत में विलुप्त होते घोराड(गोडावण) को कौन बचायेगा ?

12.

नर बाघ एकले रहना पसंद करते है. इंसानों या बब्बर शेर की तरह बाघ समूह में नही रहते. जब कि कुछ मामलों में देखा गया है की मादा बाघिन समूहों में रहती है.

13.

बाघों की लार एंटीसेप्टिक होती है. बाघों की लार के जख्म को साफ रखने में मदद करती है. बाघ के जख्म को लार कीटाणुरहित करती है. अब आप जब भी बाघ को देखे तो यह बात ज़रुर देखना.   

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

No comments

leave a comment