Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Sunday / September 25.
Homeन्यूजUP ATS ने किया लालच देकर धर्मपरिवर्तन कराने वालों का पर्दाफाश!

UP ATS ने किया लालच देकर धर्मपरिवर्तन कराने वालों का पर्दाफाश!

UP ATS
Share Now

उत्तर प्रदेश: उत्तर प्रदेश की एटीएस (Anti Terrorist Squad-ATS) ने धर्म परिवर्तन कराने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों पकड़े गए आरोपीयों में एक का नाम मोहम्मद उमर गौतम और दूसरा मुफ्ती काजी जहांगीर कासमी है। ये दोनों ही आरोपी दिल्ली के जामिया नगर इलाके में रहते थे। दोनों मिलकर बड़े पैमाने पर लालच देकर धर्म परिवर्तन कराने का अभियान चला रहे थे। दोनों आरोपियों को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया।  

यूपी के एडीजी एलओ प्रशांत कुमार

यूपी के एडीजी एलओ प्रशांत कुमार Image Source: Twitter

यूपी के एडीजी एलओ प्रशांत कुमार ने बताया कि, इन दोनों ने करीब एक हजार से ज्यादा लोगों को लालच देकर उनका धर्म परिवर्तन कराया है। इस पूरे रेकेट में आरोपियों ने भय औरप्रलोभन देकर मूकबधिर बच्चों सहित महिलाओं की शादी कराकर उनका धर्मांतरण कराया है। उन्होंने बताया कि दोनों आरोपी मोहम्मद उमर गौतम और मुफ्ती काजी जहांगीर कासमी दिल्ली के जामिया नगर इलाके के निवासी हैं।

1000 से ज्यादा गैर मुस्लिमों का धर्मांतरण: यूपी पुलिस

खबरों के मुताबिक, इन दोनों आरोपियों ने लगभग 1000 से ज्यादा गैर मुस्लिमों का धर्मांतरण कराया है। धर्मपरिवर्तन के लिए ऐसे लोगों को अपना निशाना बनाया जो लोग धर्मपरिवर्तन को लेकर विरोध किए बिना आसानी से मान जाए। इसके अलावा लालच देकर भी कई लोगों को शामिल किया। गरीब परिवार और मूकबधिर लोगों को भी अपना निशान बनाया। इसके अलावा धर्मपरिवर्तन के लिए ISI की फंडिंग भी जताई जा रही है। 

UP ATS

UP ATS arrested two men involved in religious conversion Image Source: Twitter

यूपी एटीएस ने गोमतीनगर एटीएस थाने में उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म परिवर्तन एक्ट में एफआईआर (FIR) दर्ज करा दी गई है। FIR में IDC इस्लामिक दावा सेंटर/ (Islamic Dawah Center) के चेयरमैन का भी नाम शामिल है। ये आरोपी धर्मांतरण से सम्बंधित प्रमाण पत्र और विवाह के प्रमाण पत्र भी गैर कानूनी रूप से तैयार करवाते थे।

UP ATS

UP ATS-Press Note

यहाँ पढ़ें: वागड़ के ‘यतीन वैष्णव’ बने भारतीय वायु सेना में ‘फाइटर पायलट’

मोटिवेशनल थॉट के जरिए धर्म परिवर्तन:- 

दोनों आरोपियों ने इस पूरे रेकेट में मोटिवेशनल थॉट के जरिए धर्म परिवर्तन कराते थे। इसके अलावा गैर कानूनी तौर पर विवाह प्रमाण पत्र भी देते थे। इन दोनों आरोपियों पर अब तक हजार से ज्यादा हिंदुओं का धर्मांचरण करने का आरोप है। पुलिस ने इस मामले में विदेशी फंडिंग का भी शक जताया है। गाजियाबाद में दर्ज एक मुक़दमे की जांच में इस बात का खुलासा हुआ है। 

upats

UP ATS-Press Note

महिलाओं, विकलांग और मूक बधिर को बनाया निशान:-

धर्मांतरण कराने वाले इन आरोपियों ने महिलाओं, विकलांग और मूक बधिर लोगों का धर्म परिवर्तन करवाने का निशान बनाया। खबरों के मुताबिक, नोएडा डेफ सोसाइटी नोएडा सेंटर सेक्टर 117 जनपद गौतमबुध नगर जो मूक एवं बधिरों का स्कूल के छात्र तथा अन्य मूक बधिर स्कूल के छात्रों को अवैध रूप से विभिन्न प्रकार का प्रलोभन जैसे नौकरी शादी देकर इस्लाम धर्म में परवर्तित कराया जा रहा था। फिलहाल पुलिस पकड़े गए दोनों आरोपियों से पूछताछ कर गिरोह के दूसरे लोगों तक पहुंचने की निरंतर कोशिश कर रही है। 

यहाँ पढ़ें:अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2021: ‘ITBP हिमवीरों’ द्वारा बर्फ़बारी के मध्य योगाभ्यास

 इन आरोपियों ने फंडिंग कहाँ से जुटाई, मकसद क्या था इस मामले की जांच में पुलिस निरंतर खोजबीन कर रही है। जांच के बाद और भी लोगों की गिरफ़्तारी की संभवना हैं। 

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें.. और OTT INDIA App डाउनलोड अवश्य करें..  स्वस्थ रहें.. 

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment