Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Friday / October 7.
HomeडिफेंसUS Airstrikes: इराक-सीरिया में मिलिशिया समूहों पर एयर स्ट्राइक, Weapon Storage ठिकानों को बनाया निशाना!

US Airstrikes: इराक-सीरिया में मिलिशिया समूहों पर एयर स्ट्राइक, Weapon Storage ठिकानों को बनाया निशाना!

US AIRSTRIKES
Share Now

WASHINGTON DC: पेंटागन (Pentagon) के प्रेस सेक्रेटरी जॉन किरबी (John Kirby) द्वारा एयर स्ट्राइक की जानकारी देते हुए बताया कि, अमेरिकी सैन्य बलों ने इराक-सीरिया सीमा क्षेत्र पर ईरान समर्थित मिलिशिया समूह (Iraqi militia groups) के खिलाफ डिफेंसिव एयर स्ट्राइक की है। सीरिया में ईरान समर्थित मिलिशिया के इन समूहों का इजरायल पर भी बड़ा खतरा मंडरा रहा है। इन खतरों को ध्यान में रखते हुए अमेरिका ने (US) Airstrikes का निर्णय लिया है। 

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन (President Joe Biden) ने स्पष्टता दी है कि, वह अमेरिकी सैन्य की हर तरह से रक्षा करेंगें। इराक-सीरिया सीमा क्षेत्र पर ईरान समर्थित मिलिशिया समूह द्वारा किये जा रहे हमलों की श्रंखला को देखते हुए, और हमलों को रोकने के लिए आगे की सैन्य कार्यवाही का निर्देश दिया है।

US Airstrikes में ऑपरेशनल और वेपन स्टोरेज ठिकानों पर निशाना: 

गौरतलब है कि, US Airstrikes में कितने लोगों को मार गिराया गया है या फिर घायलों की जानकारी अभी तक जारी नहीं की गई है। इस एयर स्ट्राइक में ऑपरेशनल और वेपन स्टोरेज वाले ठिकानों (Weapon storage areas) को निशाना बनाया गया। अधिकारियों का कहना है कि मर्तकों और घायलों का आँकलन जारी है। यह एयर स्ट्राइक राष्ट्रपति जो बाइडेन के निर्देश पर की गई है, जिन्होंने राष्ट्रपति बनने के 5 महीने के भीतर दूसरी बार ईरान समर्थित मिलिशिया समूह के खिलाफ जवाबी हमले का आदेश दिया है।

इसके पहले भी President Joe Biden ने फरवरी के दौरान सीरिया में सीमित हमलों का आदेश दिया था। तब यह हमला इराक में रॉकेट हमलों के जवाब में किया गया था। 

यहाँ पढ़ें: Jammu-Kashmir Terror attack: पुलवामा में SPO के परिवार पर आतंकी हमला!

us airstrike iraq syria iran

US air strikes against Iran-backed militia in Iraq and Syria Image Source: Getty Image

क़ानून के दायरे में और आत्मरक्षा के लिए एयर स्ट्राइक: पेंटागन 

  • पेंटागन ने बताया कि राष्ट्रपति जो बाइडन ने यह आदेश क़ानून के दायरे में रहकर और अमेरिकी सैन्य तथा आत्मरक्षा के लिए की है।
  • अमेरिका डिफेंस डिपार्ट्मन्ट का कहना है कि, इराक और सीरिया में ये कार्यवाही, इराक़ में रह रहे अमेरिकी लोगों और सुविधाओं पर हुए ड्रोन हमले के जवाब में की गई है।
  • पेंटागन के प्रवक्ता किर्बी का कहना है कि,  ये टारगेट इसलिए चुने गए क्योंकि इन जगहों का इस्तेमाल ईरान समर्थित लड़ाके, इराक़ में अमेरिकी कर्मियों और सुविधाओं के ख़िलाफ़ ड्रोन हमले में करते हैं। 
  • जिन ईरान समर्थित गुटों पर कार्रवाई हुई है किर्बी का कहना है कि, इन गुटों का नाम काताब हिज़बुल्लाह और काताब सैय्यद अल-शुहादा है। जो कि ईरान समर्थित कई उग्रवादी समूहों में से एक थे।
  • इराक़ में 2,500 अमेरिकी सैनिक तैनात हैं। 
  • अमेरिकी सैनिक इस्लामिक स्टेट समूह के ख़िलाफ़ एक अंतरराष्ट्रीय गठबंधन के तहत तैनात किये गए हैं। 

इस वर्ष की शुरुआत से अभी तक इराक में अमेरिकी प्रतिष्ठानों के ख़िलाफ़ 40 से अधिक आतंकी हमले हो चुके हैं। 

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें OTT INDI App पर…. 

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment