Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Thursday / December 2.
Homeन्यूजअमेरिका और चीन के मध्य तनाव जारी, आठ चीनी कंपनियों को अमेरिका ने किया ब्लैकलिस्ट

अमेरिका और चीन के मध्य तनाव जारी, आठ चीनी कंपनियों को अमेरिका ने किया ब्लैकलिस्ट

Eight Chinese company blacklisted in US
Share Now

अमेरिका और चीन दोनों देशों के मध्य तनाव दिन प्रतिदिन बढ़ाता ही जा रहा है, रायटर्स की खबर के मुताबिक अमेरिकी सरकार ने 8 चीनी कंपनियों को ट्रेड ब्लैकलिस्ट में डाल दिया है। अमेरिका का कहना है कि चीनी सेना के क्वांटम कम्प्यूटिंग प्रयासों (Quantum Computing Applications),को विकसित करने के लिए ये आठ चीनी कंपनियां (Chinese firm) उनकी मदद कर रही थी और मिलिट्री एप्लीकेशन को सपोर्ट करने के लिए अमेरिकी वस्तुओं को प्राप्त करने की कोशिश कर रही थी इसलिए बाइडेन की सरकार (US Government) ने इन कंपनियों को ब्लैकलिस्ट कर दिया है। 

US commerce अमेरिकी वाणिज्य सचिव जीना रायमोंडो (secretary Gina Raimondo) ने कहा कि “इन कंपनियों को ब्लैकलिस्ट किए जाने से देश की टेक्नोलॉजी को चीन और रूस के सैन्य विकास को रोकने में मदद होगी। इसके अलावा, पाकिस्तान की असुरक्षित परमाणु गतिविधियां या बैलिस्टिक मिसाइल प्रोग्राम को आसानी से रोका जा सकेगा”। 

यहां पढ़ें: क्या Mukesh Ambani को पीछे छोड़ कर Gautam Adani बन चुके हैं एशिया के सबसे अमीर शख्स?

US Blacklisted 27 Chinese Companies

यूएस द्वारा उठाए गए इस कदम पर Chinese Embassy के स्पीकर लियू पेंग्यू (Liu Pengyu) ने कहा कि “अमेरिका राष्ट्रीय सुरक्षा catch-all concept का इस्तेमाल करता है और चीनी कंपनियों को नियंत्रित करने के लिए अपने पॉवर का दुरुपयोग करता है”।

अभी तक अमेरिका ने टोटल  27 चीनी कंपनियों को ब्लैकलिस्ट किया है। कुछ दिनों पहले अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) और शी जिनपिंग (Xi Jinping) के बीच हुई वर्चुअल बैठक में आठ कंपनियों के अलावा अन्य कंपनियों को भी ब्लैकलिस्ट में शामिल कर दिया। इसके अलावा दोनों देशों के बीच अन्य व्यापारों को लेकर चर्चा हुई। अमेरिका का कहना है कि चीन को इन टेक्नोलॉजी के जरिए आधुनिक हथियारों को हासिल (Chinese Companies Blacklisted) करने से रोकने के लिए यह कदम उठाया गया है। 

देखें यह वीडियो:

 

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें.. और OTT INDIA App डाउनलोड अवश्य करें.. स्वस्थ रहें..

No comments

leave a comment