Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Friday / August 12.
Homeन्यूजयूक्रेन में फंसी यूपी की प्रधान वैशाली ने नए वीडियो में क्या कहा, उनके भारत में होने का दावा कितना सही है

यूक्रेन में फंसी यूपी की प्रधान वैशाली ने नए वीडियो में क्या कहा, उनके भारत में होने का दावा कितना सही है

vaishali yadav
Share Now

यूक्रेन(Ukraine) में फंसी यूपी की प्रधान वैशाली यादव(Vaishali Yadav) का नया वीडियो(New Video) अब सामने आया है, जिसमें उन्होंने कई सवालों के जवाब दिए हैं. सबसे बड़ा सवाल तो यही है कि क्या वह इंडिया में हैं, ऐसे कई दावे सोशल मीडिया पर खूब किए गए. अब वायरल वीडियो(Viral Video) में वैशाली ने क्या कहा है पहले ये जानिए फिर आपको बताएंगे कि पूरा मामला क्या है.

वैशाली यादव का नया वीडियो आया सामने

दरअसल नए वीडियो में वैशाली ने कहा कि कुछ दिनों पहले मैंने वीडियो बनाकर भारत सरकार से मदद मांगी थी लेकिन उस वीडियो को इंडिया में गलत तरीके से फैलाया जा रहा है. ऐसा कहा जा रहा है कि वह लड़की इंडिया में ही है. हर चीज को राजनीतिक मुद्दा न बनाएं. मैं यूक्रेन में थी, अब रोमानिया में हूं सेफ हूं. बहुत जल्द इंडिया लौटूंगी. जब तक आपको सही बात पता न हो उसे फैलाना सही नहीं होता. इस जगह कभी आप भी हो सकते हैं. आप उनके बारे में सोचिए जो यहां फंसे हैं. आप उनकी मदद करने की बजाय इस चीज को गलत तरीके से फैलाया है.

प्रधानी और पढ़ाई एक साथ कर रहीं वैशाली

हालांकि लोगों पर गलत बातें फैलाने का आरोप लगाने वाली वैशाली(Vaishali Yadav) ने ऐसा क्या गलत किया है कि वह लोगों के निशाने पर हैं, ये भी जान लीजिए. दरअसल यूक्रेन के एक मेडिकल कॉलेज से वह एमबीबीएस(MBBS) की पढ़ाई कर रही हैं, यूपी में प्रधान का चुनाव जीतने(Pradhan Election UP) के बाद ही वह पढ़ने गई हैं. अब प्रधानी और पढ़ाई एक साथ करने वाली वैशाली ने वीडियो रिकॉर्ड कर मदद मांगी तो लोगों ने इस बात का पता लगा लिया.

जांच में जुटे अधिकारी

अब बात उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले के अधिकारियों तक पहुंची तो उन्होंने कार्रवाई की बात कही है. हरदोई जिले की तेरा परसौली की ग्राम प्रधान वैशाली यादव के पिता महेन्द्र यादव(Mahendra Yadav) पूर्व ब्लॉक प्रमुख हैं. ऐसे में शक है कि यहां पिता प्रधानी कर रहे थे और बेटी विदेश में पढ़ाई कर रही थी. हालांकि कई मीडिया रिपोर्ट्स ने वैशाली के पिता के हवाले से लिखा है कि उनकी बेटी साल में दो बार मीटिंग में आती थी और वहीं से काम देख रही थी.

russia ukraine war

Image Courtesy: Google.com

ये भी पढ़ें: पुतिन के विरोध में टॉपलेस हुई महिलाएं, छाती पर लिखा- युद्ध रोको, यूक्रेन में शांति बहाल करो

कैसे हटाए जा सकते हैं प्रधान

खैर जांच के बाद कार्रवाई क्या होगी ये देखने वाली बात होगी लेकिन इतना जान लीजिए कि एक प्रधान को हटाने के लिए यूपी पंचायती राज अधिनियम 1947(UP Panchayat Raj Act 1947) के मुताबिक ग्राम सभा को बैठक से 15 दिन पहले नोटिस देना होता है और फिर कोरम पूरा होने के बाद मीटिंग में मौजूद दो तिहाई लोग बहुमत से प्रस्ताव पास करेंगे तो प्रधान को हटाया(Removal of Pradhan In UP) जा सकता है.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment