Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Wednesday / October 27.
HomeकहानियांVinod Khanna Biography: अमिताभ बच्चन को बॉलीवुड में टक्कर देने वाले एकमात्र अभिनेता थे विनोद खन्ना

Vinod Khanna Biography: अमिताभ बच्चन को बॉलीवुड में टक्कर देने वाले एकमात्र अभिनेता थे विनोद खन्ना

Vinod Khanna Biography
Share Now

Vinod Khanna Biography: साल 1946 में आज ही के दिन यानी 6 अक्टूबर को पाकिस्तान के पेशावर में जन्म थे भारत के सुपरस्टार विनोद खन्ना। विनोद खन्ना महज एक साल के थे तब उनका परिवार विभाजन के समय पाकिस्तान से हिंदुस्तान आया। आज विनोद खन्ना के जन्मदिवस पर जानते है उनके बारे में कुछ ऐसी बातें (Vinod Khanna Biography) जो बेहद कम लोगों को पता है।

Vinod Khanna Biography

स्कूल के मास्टरजी ने कराया अभिनय से परिचय:

विनोद का परिवार शुरुआती दिनों में मुंबई में रहता था। लेकिन थोड़े समय बाद वे सभी दिल्ली में रहने लगे। दिल्ली पब्लिक स्कूल से विनोद ने अपनी स्कूल की शिक्षा पूरी की। यहीं के एक अध्यापक ने विनोद को फिल्मी दुनिया से परिचय करवाया था। उन्होंने विनोद खन्ना की इसमें रुचि देख कर उन्होंने स्कूल में कई नाटकों में भी हिस्सा दिलाया। और इसमें रुचि के चलते ही वे आगे चलकर भारत के सुपरस्टार बने।

‘मन का मीत’ (1968) से शुरू किया फिल्मी सफर:

अभिनेता विनोद खन्ना के फिल्मी सफर की बात करें तो उन्होंने सुनील दत्त स्टारर फिल्म ‘मन का मीत’ (1968) से अपना करियर शुरू किया। उस फिल्म में उन्होंने विलेन का किरदार निभाया था। इसके बाद उन्होंने ‘आन मिलो सजना’, ‘पूरब और पश्चिम’, ‘सच्चा झूठा’ जैसी फिल्मों में भी खलनायक की भूमिका अदा की। वो इतने हैंडसम विलन थे कि हीरो को भी टक्कर देते थे।

स्टारडम छोड़ ले लिया था संन्यास:

विनोद खन्ना एक बेहद आज़ाद ख्याल रखने वाले शख्सियत थे। वो कई मुद्दों पर बेबाकी से अपनी राय रखते थे। विनोद ने 1982 में अचानक से अपने स्टारडम को छोड़ने का फैसला लिया और संन्यास ले लिया था। अपने स्टारडम से भरे जीवन को छोड़ विनोद खन्ना शांति की खोज पर निकल पड़े। वे ओशो रजनीश के आश्रम में जाके रहने लगे। वहां उन्होंने हर छोटे-मोटे काम किए जैसे टॉयलेट साफ करना, पौधो की देखभाल करना, साफ सफाई करना। उस समय सभी लोग विनोद के इस फैसले से हैरान थे कई लोगों ने विनोद पर स्वार्थी होने का इल्ज़ाम भी लगाया था।

आठ साल बाद जब विनोद ओशो के आश्रम से लौटे तो उनकी पहली पत्नी गीतांजली ने उन्हें तलाक दे दिया था। उनकी आर्थिक स्थिति भी बहुत कमज़ोर थी। इसलिए उन्होंने दुबारा फिल्मों में अभिनय किया था। और चांदनी, क्षत्रिय, दयावान जैसी फिल्मों से उन्होंने फैंस का दिल जीत लिया था। इसके बाद उन्होंने कविता से शादी की। विनोद खन्ना ने अपने फिल्मी करियर में 150 से भी अधिक फिल्मों में अभिनय किया था।

यहां पढ़ें: तारक मेहता का उल्टा चश्मा फेम नट्टू काका का निधन, कैंसर से लड़ रहे थे जंग

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment