Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Sunday / September 25.
Homeडिफेंसइजरायल और फिलिस्तीन के बिच संघर्ष, 130 से अधिक रॉकेट दागे

इजरायल और फिलिस्तीन के बिच संघर्ष, 130 से अधिक रॉकेट दागे

Share Now

इजरायल और फिलिस्तीन के बिच युद्ध का माहौल देखने को मिल रहा है।  एक तरफ कोरोना की जंग से लोग मर रहे है, वही दो देशो में ऐसा घमासान होता देख पूरी दुनिया में डर का माहौल भी देखने को मिल रहा है।  इजरायल (Israel) और फिलिस्तीन ( Palestine )के बीच मंगलवार- बुधवार की दरम्‍यानी रात को संघर्ष (Israel-Hamas-conflict) और तेज हो गया है.

फिलिस्‍तीन (Palestine)  की सत्ता पर काबिज आतंकवादी संगठन हमाम (Hamas) ने इजरायल के हवाई हमलों (Israeli air strike) के ताजा जवाब में उस पर 130 से ज्‍यादा रॉकेट (rockets ) यहूदी देश की राजधानी तेल अवीव पर (Tel Aviv) दागे हैं.  वहीं, इजरायल के लोद में प्रमुख झड़पें होने के बाद बेंजामिन नेतन्याहू ( PM Netanyahu) ने आपातकाल  (State emergency) की घोषणा कर दी.

गाजा के इस्लाम शासक हमास ने कहा कि उसने इजरायली हवाई हमले, जिसमें एक टावर ढहा दिया था, उसके जवाब में रात को तेल अवीव पर 130 से अधिक रॉकेट दागे. इसके वीडियो सामने आए हैं। इजरायल ने अपने डिफेंस सिस्‍टम से अधिकतर हमास के राकेट को नष्‍ट कर दिया है, जबकि हमास समर्थक सोशल मीडिया में इजरायल को काफी नुकसान होने का दावा कर रहे हैं. हमास का इजरायल पर यह अब तक का सबसे बड़ा हमला है.

Image Credit : Marcus Yam/Los Angeles Times/Getty Images

हमले में भारतीय महिला की हुई मौत 

इजराइल में काम करने वाली केरल की एक महिला की फिलिस्तीनी रॉकेट हमले में मौत हो गई। उसके परिवार के सदस्यों ने यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अश्केलोन शहर में 31 वर्षीय सौम्या के घर पर रॉकेट गिरा, जब वह शाम को वीडियो कॉल पर केरल में अपने पति संतोष से बात कर रही थी। संतोष के भाई साजी ने बताया, “मेरे भाई ने वीडियो कॉल के दौरान जोर की आवाज सुनी। अचानक फोन कट गया। फिर हमने तुरंत वहां काम कर रहे अन्य मलयाली लोगों से संपर्क किया। इस तरह हमें घटना के बारे में पता चला।” उसके रिश्तेदारों ने कहा कि इडुक्की जिले के कीरिथोडु की रहने वाली सौम्या पिछले सात वर्षों से इजराइल में एक घरेलू सहायिका के रूप में काम कर रही थी।

ये भी पढ़े :  भारतीय वायुसेना ने कोविड रिलीफ के लिए लगाए 42 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट

Image Credit : Pinterest

एस्कलोन शहर में  इजराइली नागरिकों की मौत 

इस हमले में एस्कलोन शहर में दो इजराइली महिलाओं की मौत हो गई जबकि 10 अन्य घायल हो गए। वर्तमान हिंसक झड़प में पहली बार इजराइली नागरिकों की मौत के बाद इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा कि अधिकारियों ने आतंकी संगठन हमास और गाजा पट्टी में इस्लामिक जिहाद के खिलाफ हमले तेज करने का फैसला किया है।  इजराइली सेना के मुताबिक उसने गाजा में उग्रवादी संगठन इस्लामिक जिहाद के एक वरिष्ठ कमांडर को मार दिया है। उसने कहा कि मारे गए आतंकी कमांडर की पहचान समीह-अल-मामलुक के तौर पर हुई है जो इस्लामिक जिहाद की रॉकेट इकाई का प्रमुख था।

Image Credit : Twitter/Hananya Naftali

हमले में उग्रवादी संगठन के अन्य बड़े उग्रवादी भी मारे गए 

सेना ने कहा कि हमले में उग्रवादी संगठन के अन्य बड़े उग्रवादी भी मारे गए हैं। इस्लामिक जिहाद ने गाजा सिटी में एक अपार्टमेंट पर हुए हवाई हमले में तीन लोगों की मौत की पुष्टि की है जो उसकी सशस्त्र शाखा के वरिष्ठ सदस्य थे। उग्रवादी संगठन ने बदला लेने की बात कही है। वहीं तनाव के और बढ़ने का संकेत देते हुए इजराइल ने सैन्य अभियान का दायरा बढ़ाने की बात कही है। सेना ने कहा कि वह गाजा सीमा पर अपने सैनिकों की संख्या बढ़ा रही है और रक्षा मंत्री ने 5000 आरक्षित सैनिकों को वहां भेजने का आदेश दिया है।

फिलिस्तीनियों और इजराइल के सुरक्षा बलों के बीच घंटों झड़प 

इस बीच एक सकारात्मक संकेत है। अधिकारियों के मुताबिक मिस्र संघर्ष विराम के लिये काम कर रहा है। रात में हुए रॉकेट व हवाई हमले से पहले फिलिस्तीनियों और इजराइल के सुरक्षा बलों के बीच घंटों झड़प होती रही। झड़प यरुशलम की अल-अक्सा मस्जिद परिसर में भी हुई जिसे यहूदी और मुसलमान दोनों पवित्र मानते हैं। बढ़ती अशांति के संकेतों के बीच इजराइल में अरब समुदाय के सैकड़ों लोगों ने फिलिस्तीन के खिलाफ इजराइली बलों की हालिया कार्रवाई की निंदा करते हुए प्रदर्शन किया। इसे हाल के वर्षों में इजराइल में फलस्तीनी नागरिकों द्वारा सबसे बड़ा प्रदर्शन माना जा रहा है।

Image Credit : Mahmoud Illean / AP / Shutterstock

कैसे शुरू हुई लड़ाई 

इजराइल ने मंगलवार को गाजा पर हवाई हमला किया था. इजरायल ने दावा किया कि इस हमले में उसने उग्रवादियों पर हमला किया. इजराइली सेना ने दावा किया कि इस हमले में मरने वाले 16 उग्रवादी थे. गाजा में स्वास्थ्य अधिकारियों ने जानकारी दी कि 10 बच्चों और एक महिला समेत 28 फलस्तीनियों की मौत हुई है.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4  

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

 

 

 

No comments

leave a comment