Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Monday / May 16.
Homeहेल्थसतर्क रहें, ये हो सकते हैं ब्रोंकाइटिस के लक्षण!

सतर्क रहें, ये हो सकते हैं ब्रोंकाइटिस के लक्षण!

Bronchitis
Share Now

हमारा शरीर कब किस बीमारी का शिकार हो जाता है, इस बात का पता भी नहीं चल पाता। इसलिए एसी कई बीमारियाँ हैं, जिनके लक्षणों की पहचान यदि शुरुआती वक्त पर कर ली जाए तो निदान करना आसान हो जाता है। क्यूंकि हमारे पूरे दिन की प्रतिक्रियाओं का असर हमारे शरीर पर भी पड़ता है। जितना ज्यादा स्वस्थ रहेंगें, उतनी ही सकारात्मक ऊर्जा का संचार होगा। Bronchitis एक ऐसी बीमारी है, जिसका निवारण शुरुआती लक्षणों में अनिवार्य है। 

साधारण खांसी और बुखार हो सकता है घातक?  

यदि बार बार बुखार आता है तो लापरवाही ना बरतें। क्यूंकि बार बार बुखार आना ब्रोंकाइटिस (Bronchitis) का लक्षण भी हो सकता है। आइए पहले तो यह जानते हैं कि, ब्रोंकाइटिस क्या है? कैसे करें इसके लक्षणों की पहचान? क्या हैं रिष्क फ़ैक्टर्स? शुरुआत में घरेलू उपचार संभव हैं? 

Bronchitis

Bronchitis Image Credit: Google Image

ब्रोंकाइटिस किसे कहते हैं? क्या हैं लक्षण? 

ब्रोंकाइटिस (Bronchitis) तब होता है जब फेफड़ों (lungs) तक हवा पहुंचाने वाली नलियां, जिन्हें ब्रोन्कियल ट्यूब (bronchial tubes) कहा जाता है, उनमें सूजन आ जाती है। जिस वजह से निरंतर खांसी आती है। इसे ब्रोंकाइटिस कहा जाता है। ब्रोंकाइटिस दो प्रकार के होते हैं। 

  • Acute bronchitis: को साधारण लक्षण में माना जाता है। क्यूंकि आप तौर पर इस बीमारी के लक्षण दिखाई देने लगते हैं। लेकिन तुरंत एफ़ेक्ट नहीं करते। 
  • Chronic bronchitis: Acute bronchitis के नजर आने वाले लक्षण जब अत्यंत गंभीर हो जाते हैं तो वे क्रोनिक ब्रोंकाइटिस कहलाते हैं। 

यहाँ पढ़ें: इम्यूनिटी बूस्टिंग के लिए यह है, सबसे शानदार जड़ीबूटी!

Bronchitis In Hindi

Bronchitis Image Credit: Google Image

श्वास संबंधी समस्याएं हैं Bronchitis के लक्षण :-  

Bronchitis Symptoms

Bronchitis Symptoms Image Credit: Google Image

यदि सांस लेने में समस्या आती है, और चेस्ट में भारीपन महसूस होता है। कफ की समस्या होने लगती है। ये सभी Bronchitis के ही लक्षण हैं। 

  • यदि अत्यधिक खांसी आती है। 
  • खांसी के साथ साथ कफ की समस्या होने लगती है।
  • सांस लेने में कठिनाई होना। 
  • सांस लेते वक्त घबराहट होना और एक अलग सी आवाज आना।
  • गले में खरास, सिर में दर्द और बुखार आना। 
  • ये सभी लक्षण तीव्र ब्रोंकाइटिसके लक्षण कहलाते हैं। 

यहाँ पढ़ें: जानिए, पैनिक अटैक (Panic Attack) के लक्षणों के बारे में!

Bronchitis के क्या हैं घरेलू उपचार? 

हर बीमारी की पहचान यदि शुरुआती दौर में की जा सके तो उसका इलाज संभव है। इसी तरह ब्रोंकाइटिस (Bronchitis) को भी घरेलू उपचार से ठीक किया जा सकता है। 

  • प्रतिदिन सौंठ, कालीमिर्च और हल्दी के चूर्ण का सेवन किया जाए ब्रोंकाइटिस में लाभ मिलता है।
  • दो ग्राम लेकर गर्म पानीके साथ सेवन करने से निरंतर आने वाली खाँसी व कफ की शिकायतें दूर होती हैं। 
  • ऐसा करने से शरीर की रोगप्रतिकारक क्षमता भी बढ़ती है। 
  • शहद को नींबू के रस में मिलाकर हल्के गर्म पानी के साथ पीने से ब्रोंकाइटिस में काफी राहत मिलती है। 
  • इसके चाय में चीनी के बदले शहद का इस्तेमाल करें। 
  • Eucalyptus Oil को गर्म पानी में मिलाकर स्टीम लेने से ब्रोंकाइटिस में काफी आराम मिलता है।
ब्रोंकाइटिस

ब्रोंकाइटिस के घरेलू उपचार Image Credit: Google Image 

  • और गले की सूजन कम होती है और खराश में राहत मिलती है। 
  • तुलसी, कालीमिर्च और अदरक मिलाकर काढ़ा पीना भी लाभदायक है।
  • गला में अत्यधिक खराश होने पर गर्म पानी में नमक डालकर गरारा करना आवश्यक है।
  • जिससे गले में हुए इन्फेक्शन कम होता है और गले को राहत मिलती है।
  • आंवला व मुलेठी का चूर्ण समान मात्रा में मिलाकर सुबह-शाम गर्म पानी के साथ सेवन करने से कफ दूर होता है। 

घरेलू उपचार से कई बीमारीयों का निदान शुरुआती दौर में मुमकिन है। 

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें.. और OTT INDIA App डाउनलोड अवश्य करें..  स्वस्थ रहें.. 

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App
Android: http://bit.ly/3ajxBk4
iOS: http://apple.co/2ZeQjT

No comments

leave a comment