Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / May 17.
Homeहेल्थक्या है ये मेनिनजाइटिस रोग? क्या है इस रोग का निदान?

क्या है ये मेनिनजाइटिस रोग? क्या है इस रोग का निदान?

Share Now

कोरोना महामारी के चलते टीकाकरण की प्रक्रिया को तेज कर दिया गया है, साथ ही में इन महामारी से लड़ने के लिए टीकाकरण ही एक उचित रास्ता है। ऐसे में कई सारे ऐसे रोग है जो अभी के समय में सबसे ज्यादा प्रभावित हो रहे है। व्हाइट, ब्लेक और यलो फंगस के साथ कई बीमारियों ने अपना प्रभाव दिखाना शुरू कर दिया है। ऐसा ही एक रोग है मेनिनजाइटिस.

यहाँ पढ़ें : WTC फाइनल: ICC ने की नियमों की घोषणा

GOOGLE IMAGE

मेनिनजाइटिस रोग क्या है ?  

मेनिनजाइटिस एक प्रकार का संक्रमण है, जो मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी के आसपास की मेंब्रेन की सूजन का कारण बनता है। यह आमतौर पर वायरस के कारण होता है लेकिन, कुछ मामलों में बैक्टीरिया या फंगस के कारण भी हो सकता है। मेनिनजाइटिस के कुछ मुख्य लक्षण सिरदर्द, बुखार और गर्दन में अकड़न हैं। हालांकि, मेनिंजाइटिस के कुछ मामले सिर्फ कुछ हफ्तों में ही ठीक हो जाते हैं जबकि, अन्य मामले जानलेवा भी हो सकते हैं। यदि आपको ऐसा लगता है कि आपके परिवार के किसी भी सदस्य को मेनिनजाइटिस के लक्षण है, तो तुरंत अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

मेनिनजाइटिस के लक्षण :

इस रोग़ में खांसने और छींकने से लेकर खाने – पीने के सामान शेयर करने और एक ही क्वार्टर में करीब रहने जैसे रोजमर्रा के क्रियाकलापों के चलते मेनिंगोकोकल मेनिनजाइटिस फैल सकता है। ये बैक्टीरिया नाक और गले में रहते हैं और एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में, नज़दीकी संपर्क से आते हैं। जब लक्षणों की बात आती है,  तो मेनिनजाइटिस आम सर्दी और फ्लू के रूप में दिख सकता है जो जल्दी ही उच्च बुखार या ठंड लगना,  भ्रम होना,  हाथ और पैर ठंडे होना,  मांसपेशियों में गंभीर दर्द होना,  गहरे बैंगनी चकत्ते दिखना,  प्रकाश के प्रति संवेदनशीलता और गर्दन का अकड़ना जैसे लक्षण दिख सकते हैं।  

मेनिनजाइटिस का निदान :

GOOGLE IMAGE

मेनिनजाइटिस के निदान के लिए डॉक्टर आपके स्पाइनल फ्लूइड के सैंपल में बैक्टीरिया की जांच कर सकते हैं। स्पाइनल टैप के जरिए डॉक्टर फ्लूइड निकालते हैं। एक सुई को पीठ के निचले हिस्से में लगाया जाता है, जहां से स्पाइनल फ्लूइड निकला जाता है। आपके डॉक्टर ब्लड टेस्ट के साथ-साथ दिमाग की एक्स-रे इमेजिंग का टेस्ट का भी करा सकते हैं।

मेनिनजाइटिस के लक्षण दिखने पर डॉक्टर से सलाह जरूर लें। चूंकि यह दिमागी बुखार है। लापरवाही बरतना जानलेवा हो सकता है। इसके लिए तत्काल डॉक्टर से संपर्क कर उपचार करवाएं। इसके अलावा, सही दिनचर्या का पालन, उचित खानपान और रोजाना वर्कआउट जरूर करें। इससे संक्रमण का खतरा कम हो जाता है।

No comments

leave a comment