Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / November 30.
HomeकहानियांInternational Children’s Day बोलें तो 20 नवंबर, किसी की याद में नहीं बल्कि इस वजह से चुनी गई ये तारीख

International Children’s Day बोलें तो 20 नवंबर, किसी की याद में नहीं बल्कि इस वजह से चुनी गई ये तारीख

International Children's Day
Share Now

वैसे तो हम सबको Children’s Day सुनकर, हमारे देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की याद आती है. नेहरू को बच्चे बहुत पसंद थे और बच्चों के प्रति उनका प्रेम भी बहुत था. बच्चें भी उन्हें चाचा नेहरू बोलकर पूकारते थे. इसलिए जवाहरलाल नेहरू के जन्मदिन पर यानि 14 नवंबर को हम सभी राष्ट्र बाल दिवस मनाते है. लेकिन आपको दिलचस्प बात बताए तो इससे पहले भारत भी 20 नवंबर को ही विश्व बाल दिवस मनाता था. हालांकि भारत अब 14 नवंबर को राष्ट्र और 20 नवंबर को अंतरराष्ट्रीय बाल दिवस (International Children Day) मनाता हैं.

अंतरराष्ट्रीय बाल दिवस एकजुटता को बढ़ावा देने, दुनिया भर में बच्चों में जागरूकता और बच्चों के कल्याण में सुधार करने के लिए मनाया जाता है. इस दिवस को मनाने का उद्देश्य बच्चों के स्वास्थ्य, शारीरिक और मानसिक रूप से जुड़ी समस्या पर ध्यान देना भी हैं.

20 नवंबर को ही क्यों मनाया जाता है

दरअसल आज ही के दिन 1959 में संयुक्त राष्ट्र महासभा UNGA ने बाल अधिकारों को अपनाने की घोषणा की थी. 14 दिसंबर, 1954 में पहली बार इसकी शुरूआत हुई थी और पहली बार बाल दिवस मनाया गया था. विश्व बाल दिवस को पहली बार 1954 में सार्वभौमिक बाल दिवस के रूप में मनाया गया था. 20 नवंबर, 1989 को, UNGA ने बाल अधिकारों पर कन्वेंशन को भी अपनाया. इसलिए, UNGA ने अन्य देशों से बच्चों के अधिकारों, अंतर्राष्ट्रीय एकजुटता को बढ़ावा देने और बच्चों की भलाई का समर्थन करने के लिए 20 नवंबर को विश्व स्तर पर इस दिन को मनाने का आग्रह किया.

देखें ये वीडियो: Farm Laws Repealed | PM Modi Takes Back 3 Farm Laws 

इस वर्ष की थीम

कोविड-19 का बड़ो पर ही नहीं बल्कि बच्चों पर भी काफी अधिक असर पड़ा है. घर में 1 साल से भी ज्यादा के लिए बंद, बच्चों के मानसिक विकास पर बहुत असर हुआ हैं. ऑनलाइन पढ़ाई, गैम्स, परीक्षा, दोस्तो से दूर रहना और बाहर खेलने न जा पाना यह सब बच्चों ने भी कोरोना महामारी के चलते झेला है. यह सभी बातें ध्यान में रखते हुए संयुक्त राष्ट्र ने इस साल की थीम ‘हर बच्चे के लिए बहेतर भविष्य’ रखी है.

ये भी पढ़ें: Kamala Harris ने रचा इतिहास, 85 मिनट के लिए संभाला राष्ट्रपति का कार्यभार

आपको बता दें कि अंतरराष्ट्रीय बाल दिवस 2021 पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भोपाल पहुंचे जहां उन्होंने बच्चों के साथ विश्व बाल दिवस मनाया. वहां उन्होंने बच्चों द्वारा बनाए गए कैलेंडर का अनावरण किया.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment