Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Sunday / September 25.
Homeनेचर एंड वाइल्ड लाइफक्या है, नर पंछियों की चमक और खूबसूरती का राज ?

क्या है, नर पंछियों की चमक और खूबसूरती का राज ?

Share Now

पक्षियों(birds) की दुनिया अत्यंत खूबसूरत है. जब भी पक्षियों की आवाज सुनते है तब हरकोई मनमोहित हो उठता है. हजारों कवियो,संगीतकारों और चित्रकारों ने अपनी कला में प्रकृति के सबसे मोहक जीव पक्षी का वर्णन किया है या फिर किसीना किसी रूप में बनाया है.

पक्षियों का जगत विशेषताओं से भरा हुआ है इनमे एक विशेषता है नर पक्षी(birds). पक्षियों (birds) में नर मादा से ज्यादा खूबसूरत होते है. उदाहरण के तौर पर देखे तो मोर पक्षी है. मोर मोरनियों से कहीं ज्यादा खूबसूरत होते हैं. यह क्यूं होता है और यह असमानता कैसे विकसित हुई यह एक शोध भी हुई.

birds

Image- Tim Laman

इस विषय पर ऑस्ट्रेलियाई राष्ट्रीय विश्वविद्यालय (Australian national university) के विकासवादी जीव विज्ञान के प्रोफ़ेसर रोबर्ट हेनशॉ (Robert Henshaw) ने खोजा कि ज्यादातर नर पंछी मादा पंछियों की तुलना में अधिक रंगीन और सजावटी होते हैं.

पंछियों में होने वाला यह परिवर्तन एक हद तक लैंगिक चयन को लेकर है, जैसे उदाहरण के लिए हिरण, शेर आदि को लिया जा सकता है जो कि मादाओं को आकर्षित करने के लिए लड़ने की प्रतिस्पर्धा करते हैं. इन जीवों में कुछ ऐसे परिवर्तन भी होते हैं जो मादाओं को अपनी ओर आकर्षित करने का कार्य करते हैं उदाहरण के लिए लंबी पूंछ को देखा जा सकता है.

यहाँ भी पढ़ें : Blackbuck की रफ्तार का क्या है राज

डार्विन के सिद्धांत evolution by natural selection से यह निष्कर्ष निकलता है कि पंछियों में लिंगों के मध्य में रंग अंतर देखा जाता है, जैसा मादाएं उज्जवल रंग को पहले चुनती हैं. यह सिद्धांत बड़े तौर पर सराहा गया. एक अन्य आयाम यह भी है कि नर पंछियों का उनके उजले रंग के कारण भी बड़े स्तर पर शिकार कर लिया जाता है. कई पंछी विभिन्न प्रतियोगिताओं में अपने रंग रूप का प्रदर्शन प्रतिद्वंदियों को चेतावनी देने के लिए करते हैं.

यहाँ भी पढ़ें : उत्तरप्रदेश का दुधवा नेशनल पार्कः बाघों का स्वर्ग

शोधों में कई आयाम सामने आये हैं उन्ही में से एक यह है कि जब नर पंछी के स्कंधिका काले रंग के हो जाते है तो उसका मतलब यह है कि वह अपने प्रभाव क्षेत्र को खो चुका है. संभोग के समय में नर पंछी एक साथी को आकर्षित करने के लिए अपना सौंदर्य दिखाने का कार्य करते हैं. मादा पंछी अधिक पंख वाले और चमकीले नरों को पसंद करती है. जिसमें मादाए माननी है कि वह स्वस्थ है तथा वह घोसले का बेहतरी से ख्याल रख सकता है. इस विषय में उदाहरण के लिए नर फ्लाईकैचर (Flycatcher) को ले सकते है.

birds

Indian-paradise-flycatcher

जिसका रंग भूरे से काला हो जाता है. हाउस फिन्चेस (House Finches) पंछी को भी एक अच्छा उदाहरण माना जा सकता है. हाल ही में हुए अध्ययनों से यह बात पता चलती है कि पंछी रंगों को एक ज्यादा अहमियत देते हैं. यहां तक अगर मनुष्यों से इनकी तुलना की जाए तो मनुष्यों के आंख में 3 ही रंग शंकु(cone) होते हैं वही पंछियों में 4 शंकु(cone ) अतः यह माना जा सकता है कि मनुष्यों की तुलना में पंछी रंगों के ज्यादा भेद जानते हैं.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

No comments

leave a comment